India

कर्नाटक में कोरोना के बाद ब्लैक फंगस का प्रकोप, सामने आए 446 मामले और 12 लोगों की हुई मौत

<पी शैली="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">नई: कर्नाटक में अब मौसम खराब होने से भी तेज है। स्वास्थ्य और चिकित्सक शिक्षा मंत्री के सुधा ने लागू होने की स्थिति में सुधार किया और फ़ंगससंक्रमण के 446 मामलों की रचना की। और nbsp; 1,000 शशि की आपूर्ति कर रहे हैं, विगत राज्य में 446 लोग इस संक्रमण से संक्रमित हैं।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">मरीजों को यह बताया गया कि 433 लोगों को भर्ती किया गया था और 11 को यह सुनिश्चित किया गया था। इसके लिए भी वे सटीक हैं।

स्स्थ्य मंत्री के अनुसार, कर्नाटक में COVID-19 के प्रकार के रोग को मजबूत करने के लिए वैट के वैस्ट, 1,763 विशेषज्ञ और सामान्य योग्यताएं और 715 विशेषज्ञों की भर्ती की प्रक्रिया होती है। इसके अतिरिक्त 57 विशेषज्ञ भर्ती, 145 विशेषज्ञ विशेषज्ञ, 40 ईएनटी विशेषज्ञ, 35 चमडी विशेषज्ञ, 142 एनेस्थ विशेषज्ञ विशेषज्ञ, 153 बाल रोग विशेषज्ञ, 17 रेडियो लॉजिस्टिक्स विशेषज्ञ।

कहावत, "उत्तरी कर्नाटक की कमी का सामना कर रहे हैं और इस तरह के खेल को हल करने के लिए इस समस्या का हल होना चाहिए।" तो है"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> में अभियान की ओर से यह कहा गया है कि उस केंद्र की ओर से कोविशिद की ओर से 1.05 करोड़ की जरूरत है, हैज में 13.54 लाख की खरीद की है, साथ ही COVAXIN की 13.10 लाख खुराक की खरीद है . में अब तक कुल 1.22 करोड़ लोगों का जाहील है।

इसके अलावा:
टुलकीट केस: पुलिस सेल की टीम की टीम चर्चा करने वालों की दिल्ली

सीबीआई अध्यक्ष की नियुक्ति पर सम्मेलन, आराम करने के लिए आराम करें

Related Articles

Back to top button