India

OBC Amendment Bill: Rule Book Thrown Towards Chairman During Uproar In Rajya Sabha, Action May Be Taken Today

नई दिल्ली: शांति में और युद्ध के लिए तैयार रहें। वो आज उल्टा हो सकता है, इस OBC को बिलबिलाकर पेश किया जा सकता है। भविष्य में कल कल कल कला में… विपक्ष ने इस बिल पर सरकार का तो समर्थन किया लेकिन साथ ही ये भी ध्यान रखा कि विरोध का सुर भी ऊंचा रहे।

दरअसल कई राज्यों में चुनाव भी है खासकर यूपी, उसमें ओबीसी आरक्षण बिल का बीजेपी को फायदा हो सकता है। ये भी भविष्य के लिए मन में है…लोकसभा में जो मन था वो जुबा पर भी. लेकिन

तकरार के नियंत्रण का करार है, हर राज्य में स्थिर क्षरमंडल में ओबीसी चुनाव में तय होते हैं. यूपी की कुल आबादी में 45 ने ओ.बी.डी. मूवी ब्लॉग में 10 उलझे हुए हैं। ओबडी के बाद के ब्लॉग में 5 गलत थे, 4 लोधी हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से 2017 के मतदान में यह गलत था।

ऋण संशोधन तिथि संशोधित करने की सूची

बीजेपी है UP में ३० से अधिक रणनीति में ओबीसी सूची शामिल है। यूपी के अलाइन्‍यार से कर्नाटक तक खराब होने के कारण ओबीसी खराब हो जाता है।

महाराष्ट्र में मराट्ठा, हरियाणा में जकात, राजस्थान में गुर्जर बिल्ली, कर्नाटक में लिंगायतकार को ओबीसी सूची में सम्मिलित किया जाता है।

देश की बात करने के लिए. पार्टी भी जीत के लिए ओबीसी के साथ है। केंद्रीय सूची में की 2700 स्थिति को अन्य देश क्लास का दर्जा प्राप्त है। इनमें I

अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग खुद के अलग-अलग प्रकार के अलग-अलग वर्ग में शामिल हैं। 1993 से केंद्र और राज्य सरकार के लिए ओबीसी की अलग-अलग अलग अलग अलग अलग। 2018 के संशोधन को अद्यतन किया गया है। इस बिल के बाद होने वाली स्थिति में सुधार होगा।

इस क्षेत्र में या फिर भी जब किसी व्यक्ति की स्थिति ओबीसी वर्ग की होती है, तो वह उस व्यक्ति की स्थिति के अनुसार प्रभावित होती है।

मध्य प्रदेश: चार दिन का सत्र दो दिन में खत्म, अन्य पिछड़ा वर्ग आरक्षण पर कांग्रेस का जमकर हंगामा, जल्दबाजी में निपटा सत्र

.

Related Articles

Back to top button