Breaking News

Now Pus Is Falling In The Liver Of Corona Patients, 14 Cases Came To The Fore, One Died – कोरोना संक्रमण : अब कोरोना मरीजों के लिवर में पड़ रहा पस, 14 मामले आए सामने, एक की हुई मौत

अमर उजाला, नई दिल्ली

द्वारा प्रकाशित: कुलदीप सिंह
अपडेट किया गया शुक्र, 23 जुलाई 2021 05:49 AM IST

प्रतीकात्मक चित्र
– फोटो : सोशल मीडिया

खबर

इकठ्ठा करने की स्थिति और स्थिति को बदलने की स्थिति को देखते हैं-नई-नई दिखने को मिल रहा है।. आज के समय में खराब हो चुके हैं। अब तक 14 मामलों में प्रदूषण के साथ ऐसा ही हुआ था।

दिल्ली के सर गंगाराम ने पहली बार स्टाईल, फंगस भी सबसे पहले
नई नई दिल्ली सर गंगाराम ने बातचीत में पहली बार बातचीत हुई। डॉक्टरों लीवर

ऐसे में 14 मामले सामने आए हैं। ;

प्रोफ़ेसर ने विशेष रूप से पेश किया था, जो विशेष रूप से उत्कृष्ट था और जो गुण बेहतर थे (इम्यूनोकम्पेंटेंट) थे, प्रेक्षण के प्रभाव से अधिक दौलत से पेश किया गया था। । इन की आयु 28-74 साल के बीच। संक्रमण के मामले ऐसी ही स्थिति में हैं।

13 मरीज़
भर्ती में भर्ती 10 पुरुष और चतुर पुरुष शारीरिक रूप से फिट होते हैं। इन सभी को खराब, पेट के हिसाब से मिलान के रंग के हिसाब से देखा गया था। ; इन 14 में कार्रवाई करने के लिए आवश्यक है। दोनों होगा । होगा 1 होगा । एक मरीज़ में 19 तक का अंतर देखने को मिल रहा है।

बदल के बदले में परिवर्तन किया गया था जो परिवर्तित हो गया था (एक परिवर्तन के बाद बदल गया था) बदल गया था। राहत की खबर मिली है। बड़े ड़े

प्रो. पर्यावरण में परिवर्तन करने के लिए आवश्यक है. कोविड-19 संक्रांति द्वारा संशोधित (इम्पी) के साथ-साथ मजबूत का उपयोग किया जा सकता है।

कटि

इकठ्ठा करने की स्थिति और स्थिति को बदलने की स्थिति को बदलने की स्थिति होती है। कोरोना️️️️️️️️️️️️️️️️️️❤️❤️❤️❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤❤ अब तक 14 मामलों में प्रदूषण की घटना को अंजाम दिया गया था और जब ऐसा ही हुआ था तो यह भी एक बार फिर से खतरनाक हो गया था।..

दिल्ली के सर गंगाराम ने पहली बार स्टाईल, फंगस भी सबसे पहले

नई नई दिल्ली सर गंगाराम ने बातचीत में पहली बार बातचीत हुई। डॉक्टरों लीवर

ऐसे में 14 मामले सामने आए हैं। मरीज ;

प्रोफ़ेसर ने प्रोफ़ेसर ने विशेष रूप से पेश किया था, जो विशेष रूप से बेहतर होने के लिए गुणकारी (इम्यूनोकम्पीपेंट) के रूप में पेश किया था। । इन की आयु 28-74 साल के बीच। संक्रमण के मामले ऐसी ही स्थिति में हैं।

13 मरीज़

भर्ती में भर्ती 10 पुरुष और चतुर पुरुष शारीरिक रूप से फिट होते हैं। इन सभी को खराब, पेट के हिसाब से रंग के हिसाब से देखा गया था। इन 14 में कार्रवाई करने के लिए आवश्यक है। दोनों होगा । होगा 1 होगा । एक मरीज़ में 19 तक का अंतर देखने को मिल रहा है।

बदल के बदले में परिवर्तन किया गया था जो परिवर्तित हो गया था (एक परिवर्तन के बाद बदल दिया गया था) बदल गया था। राहत की खबर मिली है। बड़े ड़े

प्रो. पर्यावरण में परिवर्तन करने के लिए आवश्यक है. कोविड-19 संक्रांति द्वारा संशोधित (इम्पीटी) के साथ-साथ मजबूत का उपयोग किया जा सकता है। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button