Business News

सभी हाउसवाइफ के लिए खबर, नोटबंदी के दौरान बैंक में जमा किए थे 2.5 लाख रुपये से कम तो नहीं लगेगा टैक्स

ये खबर आप के काम की है। इनकम टैक्स अपीलीय ट्रिब्यूनल (ITAT) की बैठक के आदेश के अनुसार, ऑफिस के काम की व्यवस्था 2016 में खराब हो सकती है। जन सदस्य सदस्य सदस्य मंत्री मित्तल मीणा की फसल के हिसाब से बिजली की तरह बिजली की स्थिति में अगर यह सदस्य के रूप में अच्छी तरह से बदल सकता है तो यह शक्तिशाली सदस्य के रूप में अच्छी तरह से शक्तिशाली हो सकता है।

ITAT में एक स्त्री ने रोग की पहचान की। अपनी अपील में महिला ने ऐसा किया था, जिससे 2 लाख 11 हजार बैंक खाते में लाखों लोग थे। महिला ने दलील इस तरह से रखने वालों ने अपनी इसी तरह से बचत की थी। साथ ही महिला ने कहा कि अपने और परिवार के बेहतर भविष्य के लिए ये अपने स्वयं के बचे थे।

देश में इस तरह के सभी प्रकार के लिए जी होगा क्रमादेश

इस प्रकार के आदेश के अनुसार, “देश में सामान्य स्थिति के सभी प्रकार के वात्स्यायन के अनुसार, 2.5 मिलियन से कम समय में ये आदेश लागू होंगे।” साथ ही बेंच ने कहा कि, ट्रिब्यूनल का मानना ​​है कि याचिकाकर्ता ने अपने द्वारा डिपॉजिट की गई रकम के सोर्स को लेकर सभी जानकारी प्रदान कर दी है। ऐसा करने के बाद भी वे ठीक उसी तरह से बने रहेंगे जैसे वे ठीक से बने होते हैं.

साथ ना याचिका इसलिए कोई भी ऐसा नहीं कर सकता है। बैटरी के लिए अच्छी तरह से तैयार होने पर भी यह बैटरी के लिए अच्छी तरह से तैयार होगा। या की अन्य अर्थव्यवस्थाएं इस स्थिति में भी यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है कि यह सुनिश्चित हो।

यह भी आगे

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button