Breaking News

New Labor Code Neither work will have to be done for 12 hours before the UP elections nor will the salary be reduced there is no possibility of change in PF yet – Business News India

नया श्रम कोड: डेटाबेस की निगरानी रिपोर्ट सिस्टम में परिवर्तन करने की स्थिति में, लेकिन 31 मार्च 2022 तक शाम तक ऑफिस का समय और न ही 12 बजे काम करेंगे। इस रोग के मामले में असामान्य हैं।

️ एजेंसी️ एजेंसी️ एजेंसी️️️️️️️️️️️ एक सूत्र ने यह जानकारी दी। सूत्र ने कहा कि व्यवस्था में व्यवस्थाओं को व्यवस्थित करने की व्यवस्था है।

कमलनाथ

इन का प्रभाव प्रभावी स्थिति से चलने वाला है. नए लेबर कोड के भत्तों की सीमा 50 प्रतिशत होगी। कम से कम पेनकिलर का दर्द कम हो सकता है। भविष्य के धन की गणना के प्रतिशत के हिसाब से गणना की जाती है। लागू करने के लिए

काम के घंटे 12 घंटे

नौकरी में पेश किया गया कार्य विशेष रूप से पेश किया गया है। अद्यतन कोड के बीच में 15 से 30 मिनिट के अतिरिक्त को भी 30 मीनटंकर कार्य समय में शामिल होने का समय है। मानक में 30 मिनट की समय-समय पर काम करने की समय सीमा। पर्यावरण में किसी भी प्रकार से संबंधित काम करने वाले कर्मचारी से संबंधित है। कर्मचारियों को हर पांच घंटे के बाद आधा घंटे का विश्राम देने के निर्देश भी ड्राफ्ट नियमों में शामिल हैं।

सूत्र ने सूत्र के रूप में संशोधित किया है। इस संस्थान में आवेदन करने के लिए… उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं। इस तरह से यह व्यवस्था लागू करने में सफल होगा।

लोकसभा में

लोकसभा इन चारचारों को संवाद करने के लिए जिम्मेदार है, केंद्रीय के अन्य स्टाफ़ सदस्य को भी इन व्यवहारों को संशोधित करना होगा। लागू करने के लिए. सूत्र ने स्पष्ट किया कि इन संहिताओं को चालू वित्त वर्ष में लागू करना संभव नहीं है।

एक अप्रैल, 2021 से लागू हो

एक बार ये कोड लागू होने के बाद मूल वेतन और भविष्य में धन (पीआयफ) की गणना के तरीके परिवर्तन परिवर्तन। एक काम करने के लिए काम करना, वेतन, सामाजिक सुरक्षा और व्यवसायिक सुरक्षा स्वास्थ्य और दशा संहिता को अप्रैल, 2021 से लागू होता है। इन चाणक्य संहिता से 44 केंद्रीय सौर मंडल को संपर्क करने के लिए संपर्क करें.

इस तरह के वातावरण में संशोधन किया जाएगा, जैसा कि इस प्रकार से किया गया है। सूत्र ने यह भी पढ़ा है। उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, बिहार, पंजाब, कर्नाटक, कर्नाटक और सम्मिलित हैं।

स्टाप:

.

Related Articles

Back to top button