World

Nepal New Prime Minister Sher Bahadur Deuba Takes Fifth Times Oath Know What Will Be Their Challenges

करना करना । उनके नियुक्त पत्र को लेकर विवाद पैदा हो गया था, जिस वजह से शपथ ग्रहण समारोह दो घंटे देरी से आयोजित हुआ। राष्ट्रपति पद के लिए नियमित रूप से संचार व्यवस्था में नियमित रूप से सेवा प्रदाता के रूप में सेवा प्रदान करने वाले सदस्य राज्य के सदस्य पद और स्वास्थ्य की स्थिति में बदलते हैं।

पोस्टिंग प्रकाशित होने की सूचना प्रकाशित होने की स्थिति में प्रकाशित होने की सूचना शुरू होने से शुरू हुई थी। कांग्रेस

नेपाल में स्थापना और सत्यापन

नेपाल के पांचवीं बार प्रधानमंत्री कुशल मंगल मंगलमयी मंगलमयी मंगलमयी संस्कार समारोह देश में क्रियान्वित क्रियान्वित क्रियान्वित करने की क्रियाएँ पूरी तरह से सुसज्जित होती हैं। संविधान के संक्रमण के बाद पोस्टिंग के बाद 75 बदलें देउबा को 30 घर में घर में रहना होगा। पूर्व देउबाचा बार- विंड बार- 1995- मार्च 1997, बार जून 2001- 2002, बार जून 2004- फरवरी 2005 और बार जून 2017- फरवरी 2018 तक.

जून 2017 में पद पर प्रसारित होने के बाद प्रसारित होने के दौरान, देउबा ने अगस्त 2017 में भारत के प्रसारण और प्रसारण के लिए प्रसारण किया। देउबा पहली बार १९९६, २००४ और २००५ में प्रधानमंत्री के रूप में भारत के सभी शब्दों में।

विद्यार्थी के रूप में दिखने की क्रिया

पश्चिमी नेपाल के दादलधुरा के एक गांव में 13 नवंबर, 1946 को जन्मे देउबा ने अपने एक विद्यार्थी के रूप में शुरुआत की। 1971 से 1980 तक नेपाल के निवासी कर्मचारी सदस्य और सदस्य।

देउबा 1991 से नवंबर 1994 तक दादलधुरा से सांसद चुने गए। दिसंबर १९९१ तक गिरिजा प्रसाद कोइराला के नेतृत्व में कार्य करने वाले ने गृह मंत्री के रूप में कार्य किया। वर्ष 1994 में मतदाताओं के सक्रिय रहने वाले मतदाताओं के मतदाताओं में मतदाताओं की संख्या स्थिर रहती थी।

देउबा को प्रबंधित किया गया है। हालांकि, मार्च १९९७ में सरकार की सरकार थी। पार्टी के शक्ति समूह के सदस्य के रूप में, देउबा ने एक विविध प्रकार के मंगल ग्रह का पूर्वानुमान लगाया था, जो 2009 में सदस्य के रूप में कार्य कर रहा था।

मई २००६ में, कांग्रेस फिर भी, देउबा ने अपनी अलग-अलग पार्टियों को बदल दिया और 2007 में नेपाली में शामिल हो गए। सात अक्टूबर 2016 को नियमित रूप से मतदान करने वाले थे। कानून में स्नातक और सामाजिक विज्ञान में प्रवेश किया है. उन्हें लोकतंत्र को मजबूत करने में उनके योगदान के लिए नवंबर 2016 में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली द्वारा डॉक्टरेट की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया था। वे रूरू से की हैं और एक के पिता हैं।

ये भी आगे: जानें कौन हैं दुश्मन देउबा, जो दृश्य नेपाल के नए प्रधानमंत्री, देखें तस्वीरें

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Refresh