Breaking News

ncpcr said to Supreme Court over 9800 children loss their parients during covid 19 – India Hindi News

_______________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________ ने कहा। शीर्ष अदालत महामारी के कारण अपने माता या पिता में से किसी एक को गंवा चुके बच्चों पर पड़े प्रतिकूल प्रभाव का स्वत: संज्ञान लेकर मामले की सुनवाई कर रही है। संचार के प्रसारण के लिए संदेश सूचना सूचना दी।

एनसीपीसीआर ने बाल स्वराज पोर्टल-कोविड केयर पर अपलोड किए गए आंकड़ों का जिक्र करते हुए बताया कि अप्रैल, 2020 से लेकर 07 दिसंबर, 2021 तक 9855 बच्चे अनाथ हो चुके हैं। इस विषय पर 1,32,113 .

न्यायालय ने सोमवार को कोविड महामारी के कारण अपने माता, पिता या दोनों को खोने वाले बच्चों की पहचान करने की प्रक्रिया की गति को बेहद धीमा करार दिया और राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को ऐसे बच्चों की पहचान और पुनर्वास करने के लिए तत्काल कदम उठाने के निर्देश द।

उसने साथ ही कहा कि इसके लिए उसके निर्देशों का इंतजार नहीं किया जाए। इस तरह की स्थिति का प्रदर्शन: । नागेश्वर और रत्न गवई की पीठ ने कहा कि यह हवा में तेज गति से चलने वाला है।

.

Related Articles

Back to top button