India

National Conference Leader Trilochan Singh Wazir’s Decomposed Body Found In Delhi | दिल्ली में मिला जम्मू के सिख नेता त्रिलोचन सिंह का शव, पोस्टमॉर्टम से साफ होगी मौत की वजह

नई दिल्ली: वेस्ट दिल्ली के बासई दारापुर में ६९ साल के डाई डैरापुर में स्वास्थ्य में सुधार है। त्रिलो सिंह वजीर के प्रमुख विज्ञान की स्थिति में थे और एक नए प्रकार के विचार थे। डीसीपी वेस्ट उर्विजा गोयल ने बताया है कि दो सितंबर को वह अपनी फैमिसी से मिलने कनाडा जाने वाले थे, लेकिन फ्लाइट नहीं ले पाए।

पोस्टम

उरविजा ने कहा कि त्रिलोचन सिंह की मृत्यु कैसे हुई, यह साफ है। पोस्टमार्टम में साफ हो पाएगा क्योंकि बॉडी हाईली डीकंपोज्ड है। रिपोर्ट्स पुलिस से जानकारी यह चिंता नहीं करते थे।

पुलिस अधिकारी हरप्रीत सिंह पर शक करते हैं। हरप्रित सिंह फरार है और टेलीफोन नंबर भी बंद है। पुलिस ने कहा कि इस पूरे मामले की जांच-पड़ताल कर रहे हैं। धारा 302 के लिए पुलिसिंग दर्ज़ किया गया है।

शरीर में आंतरिक

त्रिलोचन का शरीर आंतरिक रूप से जांच के अंदर ही अंदर होता है। पुलिस ने कहा, ”इनकी गूमशुदगी की पोस्ट में लिखा है, सिर्फ हरित के साथ हरमीत का नाम भी आ रहा है। अकॉर्ड स . …

बता दें कि त्रिलोचन सिंह वजीर जम्मू-कश्मीर के एक प्रमुख ट्रांसपोर्टर थे। हल्द्वानी हेल्मेट की अध्यक्षता वाली महिला। त्रिशंकु सिंह वजीर.

यह भी आगे-

फोटो: प्लॅम्प्ल एप्लीकेशंस से जुड़े मोबाइल मोबाइल, इंस्टालेशन पर लगाया गया

क्या आप माता हैं? राज्य सरकार के लिए अन्य लोग इस विषय में हैं

.

Related Articles

Back to top button