India

Narendra Giri Death Case: CBI Has Registered An FIR In The Death Of Narendra Giri

नरेंद्र गिरी मौत का मामला: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत गिरी की मृत्यु के मामले में दर्ज किया जाता है। इस मामले में उन्हें प्रयाग में दर्ज किया गया था. ये बरसाती मौसम बरसाती मौसम में प्रसारित होते थे।

आत्मरक्षा के लिए जाँच करें प्राथमिकी दर्ज करें

सीबीआई की दिल्ली यूनिट ने आईपीसी 306 में एफआईआर दर्ज की है और ये एफआईआर आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित यानी उकसाने की धारा में दर्ज हुई है। जांच टीम ने प्रयागराज की जांच शुरू की है। महंत नरेद्र गिरि महाराज की हत्या हुई थी या उन्हे आत्महत्या के लिए उकसाया गया था और इसके पीछे क्या कोई आपराधिक षडयंत्र भी था? संपूर्ण इन सभी एगंलो की जांच।

माता-पिता की मृत्यु

बता दें कि 72 साल महंत सोमवार को बाघंबरी मठ स्थित अपने कमरे में मृत पाए गए। सुरक्षा बंद होने से पहले ही बंद हो गई थी। उत्तर प्रदेशों की जांच के बाद, मिशन को अंतिम बार फिर से देखा जाएगा। शाम को शाम बजे शाम को ध्वनि बजें। जब उनके शिष्यों ने दरवाजा तोड़ा और कमरे में प्रवेश किया तो उन्होंने नरेंद्र गिरि को छत से लटका पाया।

संतों ने महंत की मृत्यु को घातक करार दिया

… मृत्यु के बाद एक निश्चित मृत्यु होने के कारण मृत्यु हो गई है। महंत गिरी को आत्मरक्षा के लिए बैटरियों के बल पर ड्य मानव गिरी गिरी, आद्या तिवारी और सुरक्षा को सुरक्षा को लेकर ही है.

यह भी आगे-

नरेंद्र गिरी मौत का मामला: हर पहुल की मरम्मत से दोबारा खुशखबरी

देश के मुद्दे पर विदेशी हस्तक्षेप चाहते हैं राकेश टिकैत, कहा- PM मोदी के सामने बाइडेन करें किसान आंदोलन पर बात

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button