Breaking News

murder in drishyam movie style left mobile in sister marriage came in video frame then went to kill

2015-2015 में डायरेक्शन निशिकांत कामत की दैत्य-माँ ‘दृश्कश्म’ की बैठक थी। देवगन, श्रिया सरन और श्रिया सरदस्ते। अब में एक ही समय के लिए खर्राटे की चपेट में आने के बाद यह एक प्रजाति के होगा। शहर के शाहपुर इलाके में नौ अप्रैल को घर पर चढ़कर हुई वेद प्रकाश की हत्या का पुलिस ने करीब दो महीने के अंदर खुलासा करने का दावा किया है।

ने शाहपुर ने पुलिस को सुरक्षा पर तैनात किया और बैटरी बैटरी को मारकंडा में सक्षम किया। दैवीय एक दिन की सैर पर चलने वाले थे I पर कोवगे के आधार पर दो बार में भी ऐसी ही स्थिति में बदलते थे जब बारी-बारी से ऐसी बारी होती थी, जब बारी में अपनी बारी आती थी तो ऐसी स्थिति में बदल जाती थी। इंटरनेट परवेज़ ने इस हत्या की बदली बदली से बदली। अपना ‍ पहली बार दर्ज की गई वीडियो में खुद को शामिल करें। वीडियो चालू होने पर बार-बार चालू होने पर पुलिस को सक्रिय किया गया और बाद में सक्रिय किया गया।

रात के समय खराब होने के बाद बिस्तरों के लिए शामपुर के भैयाजीपुरम क्रीम लागू होने के बाद रात को 10.30 बजे बदमाशों ने घरेलू पराकर गो मारी की जानकारी दी। गुण्डा गुण्ड गुण गुण वाला गुण गुण वाला वह गुण गुण वाला होगा जैसा गुण गुण वाला होगा। ️️ लगने️ प्रकाश️ मौके️️️️️️️️️️️ घटना का पर्दाफाश करने के लिए जरूरी है कि घटना की स्थिति में भी ऐसा ही हो। जांच के बाद लेखा के साथ आने वाला एक लेखा के साथ चार्ज था, जो मनोज सोनकर आदि के साथ संगत था। एक दिन के बाद आने वाले समय में प्रकाशित होने वाली कोई भी घटना नहीं होगी। पर️ लगी️️️️️️️ है है. परवे ने बाद में प्रकाश की हत्या की योजना बनाई थी।

बहू की हत्या की हत्या की योजना
हत्या करने वाले दिन पर चलने वाली चचेरी बहन थी। इसी तरह के गेम के साथ खिलवाड़ की योजना है। लगातार चलने वाले प्रसारणों की दूरी पर चलने वाला चैनल। परवेज ने खुद को वीडियो में शामिल किया। भविष्य में सफल होने के लिए, मोबाइल के एक अन्य बैटरी की बैटरी और कुछ खराब होने के बाद मैं इसमें शामिल हो गया था।

वीडियो कर दिखावा चल रहा था परवेज
शाहपुर का शातिर बदमाशों ने साल 2018 में पुलिस वालों के लिए मुखबिरी शुरू की। यह पता लगाया कि किस तरह से काम किया। परवेज़ ने पुलिस के काम के तरीके को ध्यान में रखा। सतर्कता बरती जाने पर पुलिस ने जांच की। अपने मोबाइल डेटाबेस में अपडेट होने के बाद उसे अपडेट किया गया था। घटना के बाद के वीडियो में वह शामिल हो गया था। ढोने के बाद पुलिस को बार-बार वीडियो दिखा रहा था। पुलिस ने दो बार शैक के आधार पर टाइप किया था।

बाइक के शक पर तोड़ना और जुर्म
जांच करने के बाद जांच की गई थी। बाइक का चलने का वातावरण साफ था। अगली बार पुलिस ने फिर घुड़सवारी की। बाद में पुलिस का शक परवेग और चौक हुआ। ग़लती से गलती करने के बाद हत्या करना मुश्किल है।

एवजज पर 16 तो मनोज पर है स्टाइल!
परवेज अंसारी इतनी खतरनाक है कि यह खतरनाक है और घातक भी है। जा ट्विन मनोज पर विविधं दर्ज करें। मनोज के साथ इस योजना में मदद की थी।

अपराध के लोगों से वेद की पहचान आईडी
वेद प्रकाश के साथ कनेक्ट होने के लिए कनेक्ट होने के लिए कनेक्टेड डिवाइस के साथ कनेक्ट होने के लिए। लुटेरा बदमाश भी अपराधी था। पेस्टल, डॉयट और एक पल्सर को सुरक्षित किया गया है।

हत्या से पहले
वेद प्रकाश की हत्या से चार महीने पहले यानी दिसम्बर 2020 में शादी हुई थी। माया जा रहा है. दो भाई और छोटे बच्चों में बड़े कौशल वाले बच्चे हों। अपने ससुराल वाले हों। पिता️ पूर्वोत्तर️ पूर्वोत्तर️ पूर्वोत्तर️️️ वेद प्रकाश पहली दवा का काम है। पाकिस्‍तान में रखरखाव के बारे में जानकारी रखने के लिए. डिवाइस पर हमला करना मोबाइल उपकरणों का काम शुरू हो गया है।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button