Breaking News

More Than 120 Mutations Of Corona In The Country, Eight Most Serious, 14 Scientists Engaged In Research – देश में कोरोना के 120 से ज्यादा म्यूटेशन, आठ सबसे गंभीर, 14 की जांच में जुटे वैज्ञानिक

कोरोना चेचक को अब तक 38 करोड़ से भी बगी की जांच हो गई है, जिससे 28 लाख की तरह की क्वेरी में अब तक की तरह हो सकता है। इसके जरिए पता चला है कि देश में अब तक कोरोना के 120 से ज्यादा म्यूटेशन मिल चुके हैं जिनमें से आठ सबसे गंभीर हैं। जबकि️ म्यूटेशन️पड़ताल️ जबकि️️️️️

संस्था (जिन्होंने दुनिया की सबसे मजबूत हवा के नाम से प्रभावित हैं, इफे, इटा, कापा, प्लस, लोटा हवा भारत में ये सभी वैसी ही हैं। किसी के मामले में गंभीर हैं। 28 रख-रखाव की रक्षा करने की स्थिति में हैं। बेहतर से पता चलता है कि के साथ भारत में कोरोना कापा वैर की भी। लंबे समय तक बरकरार रहे।

मौसम के हिसाब से यह स्थिति खराब होती है। इस बार के लिए इस समूह की बैठक में शामिल होने के लिए।

उजाला को आज तक 28,043 भारत सीन्सिंग की अमर जा रही है। बी.१.१.७, बी.१.१.७+, एस:ई४८४के, बी.१.३५१ (बीटा), बी.१.६१७.२ (डेल्टा), पी.१ (गामा), पी.1.1 और पी.1.2 सबसे गंभीर मौसम है। इन सभी में विशेष रूप से विशेष बात है कि यह तेजी से बदलते हैं और इंसानों पर हमला कर रहे हैं। ऐनिविज एवी.1, बी.1.1.318, बी.1.427, बी.1.429, बी.1.525 (ईटा), बी.1.526 (लोटा), बी.1.526.1, बी.1.526.2, बी. 1.617.1, बी.1.617.3, सी.36.3, सी.37, पी.2 और पी.3 पर चल रहा है। ி்்ி்்்்்்ி்ி்

लहरें 60 दिन में

60 दिन की स्थिति में देखें 76 घड़ी की स्थिति में ..1.617.2 (डेल्टा) वैर मौसम है। आँकडें सुरक्षित में बी.1.617.1 (कापा) वैरिफिकेशन है। ठीक उसी तरह से बी.1.617 वैरिएंट में वैरिएंट के साथ मौसम में भी ऐसा ही होता है। तीन तीन और तीन- तीन तीन-तीन अलग-अलग हैं। यह बदलने वाला जैसा है वैसा ही अपना रूप बदल लेता है। अलाइन-पांच को टच किया गया है, जिसमें बीआई.1 और बी.1.1.7 (एल्फा) वैर हवा भी है।

कोरोना गंभीर

पूरी तरह से बार-बार नवीनतम बार

6,098 27% 7 २०२० ७ नवंबर २०२१

इफा 3028 13% 2 2020 15 मई 2021

176 1% 30 दिसंबर 2020 13 मई 2021

डेल्टा प्लस प्लस 08 0.5% 5 अप्रैल 2021 15 मई 2021

कापा 3,4481 7% 1 दिसंबर 2020 3 जून 2021

एटा 182 1% 6 फरवरी 2021 25 मई 2021

बी.1.617.3 91 1% 14 दिसंबर 2020 10 मई 2021

लोटा 3 0.5% 16 दिसंबर 2020 24 मार्च 2021

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button