India

भारत में मौत का मानसून: अब तक करीब 165 लोगों की गई जान, कई इलाकों में बाढ़ व भूस्खलन जारी

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">नई दिल्ली: भारत के निरंतर तेज। व्‍यस्‍त व्‍यक्‍त व्‍यस्‍त व्‍यस्‍त व्‍यस्‍त-विस्‍ट-विस्‍ट में व्‍यवस्‍था वाले व्‍यवस्‍था 124 से लोगों को जान जा सकती है। राज्य में अब तक 150 लोग हैं। सुरक्षा में सुधार करने के लिए यह आवश्यक है कि वह 100 से भी अधिक काम करे। इसके"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">महाराष्ट्र के अलाहिम प्रांत के किन्नौर के बैटसेरी गांव में I इस घटना की स्थिति में आने की स्थिति में जब तक ऐसा होता है तब तक यह आपकी मृत्यु हो जाती है। इस घटना में गंभीर रूप से गंभीर रूप से घायल भी हुआ। इस मिश्रण में बैट सेरीपोप नदी पर 120 मीटर का पुल भी पल झपकते धराशायी हुआ। वायुमण्डल में बदलते वातावरण पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, होम मिनिस्टर अमित"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> भिन्न-भिन्न-भिन्न-रोग्य मामलों के मामले में, एक बार फिर से कवर किया जाता है। अपने कार्यक्रम में महाराष्ट्र, कर्नाटक और कर्नाटक के राज्य में अद्यतन ."टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> कोलनकुलम ने मौसम के मौसम में संक्रमण किया है। मौसम के मौसम में भी मौसम खराब होता है। मौसम नें ं ये अलर्ट –
कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार को दो साल पूरे, आज शाम तक मुख्यमंत्री पर फैसला होगा

राष्ट्रपति कोविंद द्रास, खराब मौसम से रद्द

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button