Panchaang Puraan

Mokshada Ekadashi 2022 date time puja vidhi shubh muhrat samagri ki list – Mokshada Ekadashi 2022 : मोक्षदा एकादशी कब है? नोट कर लें पूजा

ऐप पर पढ़ें

मोक्षदा एकादशी 2022 : मार्गशीर्षक माह के शुक्ल पक्ष में आने वाली एकादशी को मोक्षदा एकादशी के नाम से जाना जाता है। धार्मिक ईसाई धर्म के अनुसार मोक्षदा एकादशी का व्रत धारण से पितरों को मोक्ष की प्राप्ति होती है। एकादशी का हिंदू धर्म बहुत अधिक महत्व रखता है। एकादशी के दिन विधि- विधान से भगवान विष्णु की पूजा- अर्चना की जाती है। एकादशी व्रत करने वाले का जीवन खुशियों से भर जाता है मृत्यु के बाद मोक्ष की प्राप्ति होती है। आइए जानते हैं मोक्षदा एकादशी पूजा- विधि, शुभ मुहूर्त, पूर्ण समय और सामग्री की पूरी लिस्ट…

मुहूर्त-

  • एकादशी घोषणा – संलग्नक 03, 2022 को 05:39 पूर्वाह्न बजे
  • एकादशी तिथि – क्लोज 04, 2022 को 05:34 पूर्वाह्न बजे
  • एकादशी व्रत पूर्ण करने का समय- 4 दिसंबर 01:04 अपराह्न बजे से 03:09 अपराह्न बजे

एकादशी पूजा-विधि-

  • सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से निवृत्त हो जाएं।
  • घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें।
  • भगवान विष्णु का गंगा जल से अभिषेक करें।
  • भगवान विष्णु को पुष्पांजलि और तुलसी दल अर्पित करें।
  • यदि संभव हो तो इस दिन व्रत भी रखें।
  • भगवान की आरती करें।
  • भगवान को भोग। इस बात का खास ध्यान रखें कि भगवान को सिर्फ सात्विक चीजों का भोग लगाया जाता है। भगवान विष्णु के भोग में तुलसी को अवश्य शामिल करें। ऐसा माना जाता है कि बिना तुलसी के भगवान विष्णु भोग ग्रहण नहीं करते हैं।
  • इस पावन दिवस भगवान विष्णु के साथ ही माता लक्ष्मी की पूजा भी करें।
  • इस दिन भगवान का अधिक से अधिक ध्यान करें।

देवगुरु बृहस्पति की बदलेगी चाल, ये राशि वाले होंगे सबसे ज्यादा प्रभावित, पढ़ें मेष से लेकर मतलब राशि तक का हाल

एकादशी व्रत सामग्री सूची

  • श्री विष्णु जी का चित्र या मूर्ति
  • पुष्पांजलि
  • नारियल
  • सुपारी
  • फल
  • लौंग
  • धूप
  • दीप
  • घिसना
  • पंचामृत
  • अक्षरत
  • तुलसी दल
  • चंदन
  • मिष्ठान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button