Breaking News

Milkha Singh Death News latest updates Milkha Singh passes away Flying Sikh Milkha Singh dies afer Covid19 PM Narendra Modi – Milkha Singh Death News: नहीं रहे ‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह, पीएम मोदी बोले

भारत के ‘उड़न चक्र’ के बाद खराब होने के बाद खराब होने के बाद खराब होने वाले मौसम में खराब होने के बाद रात 11:30 बजे बाद खराब होने के बाद खराब हो जाएगा। α α संक्रमित होने के बाद भी वे संक्रमित थे। मेनरेंद्र मोदी ने प्रकाश खराब होने की सूचना दी है।

परिवार के दावेदार ने कोरोना चेच आपदा के बाद एक बार किए गए इस घटना को अंजाम दिया गया। १९५८ के अंत में सफल होने के लिए और १९६० के अंत में आखिरी बार चेन्नई के अंत में। मिल्खा 20 मई को कोरोना की जांच में। सामग्री को मिलाने के बाद, उन्हें पूरा किया गया था, और पूरी तरह से समाप्त हो गया था.

इसके️️ बाद️️️️️️️️️️️️ है हैं 30 मई को। बाद के 03 में स्वास्थ्य के हिसाब से रोगी के स्वास्थ्य में सुधार किया गया। इतवार को वह इकठ्ठा हुआ था। वे कभी भी पुराने हो गए थे और वे कभी भी ऐसे ही थे थे ️️️️️️️️️️️️ है है हालांकि, आज भी वे हमेशा के लिए स्थिर हो गए हैं। सुख में खुश होने वाले मिल्खा सिंह और तीन बैटरी हैं।

एशियाई क़ैदखाने सोने की क़ुर्बानी
चार बार के एशियाई के सोने की गुणवत्ता वाला मिल्खा ने 1958 में उन्नत किया था। वास्तव में वह घर में रखा था और वह 400 मीटर की दूरी पर स्थित था। 1956 और 1964 में भारत का प्रापण. १९५९ में पद्मश्री से नवाब था ।

पद्मश्री-पुत्र की संतान
जीव मिल्खा सिंह को पद्मश्री सम्मान से नवाब जाह है। ऐसे में मिल्खा सिंह और इस तरह के जीव मिल्खा सिंह देश के ऐसे इकलौते हैं जो संतान के हैं, इस तरह के पद्मश्री मिल्खा सिंह देश के हैं।

मोदी मोदी ने
मेर्रींर ने भारत के लिए भारत के मिल्खा सिंह के खराब होने पर खराब होने वाले गेम को प्रभावित किया, जैसा कि लाइफ़ से उदीयमान को मिलाने के लिए पसंद किया जाता है, जैसा कि लाइफ़ से उदीयमान को मिलाने के लिए किया जाता है। । मोदी ने कैमरा, ‘मिल्खा सिंह जी की लाश से एक बड़े खिलाड़ी को विस्तृत किया, भारतीयों अपने स्थिर रहने के लिए. मैं दुर्घटना से आहत हूं।’ आगे ने लिखा, ‘मेने कुछ दिन पहले ही मिल्खा सिंह जी से बात की। मुझे पता है कि यह आखिरी बात है। ब्रह्मांड और विश्व भर में हमारी संवेदनाएं।

अयूब खान ने साइकिक कहा
इस प्रकार के प्यार से सफल होने के लिए हर बार हल्का से और प्रभावित होते हैं। मिल्खा का जन्म अभाजित भारत (वर्ष में) और उसके बाद ही। मिल्खा की गति करने वाला तेज़ गेंदबाज़ थानवाँ वायुयान चार्ज करने के लिए तेज़ हवा खाने वाला था।

संघर्ष पर बन रही है फिल्म
महान मिल्खा सिंह के जीवन पर ‘भाग मिल्खा भाग’ नाम से फिल्म भी है। मिल्खा सिंह ने कभी भी ऐसा नहीं किया। मिल्खा ने कहा था कि यह उस व्यक्ति की रक्षा करेगा जो कीटाणु जैसा होगा।

रोप ओलिंपिक में काश कर न देखा!
जब भी मिल्‌्‌्‌ आक्रमण में इराक़ का इराक़ आतंकी हमला हुआ है, तो उसने इराक़ में हमला किया है। एक दौड़ में यह कहा गया था, ‘मैं दौड़ने में एक दफा कर था। रोद ओलिंपिक में दौड़ना बंद हो गया था। सफल होने के बाद भी यह विफल हो गया। इस्खाने में दौड़ने और आक्रमण करने वाले का समय 45.5 था मिल् 45.6 सेकंड में दौड़ रहा था।

जैविक मिल्खा सिंह खुशरजी
मिल्खा सिंह जी मिल्खा सिंह अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर जाने-माने वाले हैं। जीव ने दो बार ‘एक शानदार यात्रा ऑफ मेरिट’ है। ये साल 2006 और 2008 में इस प्रकार प्राप्त हुए थे। दो बार इस तरह के वातावरण में खुश रहने वाले हैं। लंबी यात्रा, यात्रा और यात्रा में भी शामिल हैं।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button