Panchaang Puraan

Mesha Sankranti 2022: Mesh Sankranti on April 14 know the importance and effect on weather of entering sun to Aries – Astrology in Hindi

मेष संक्रांति 2022 अप्रैल तिथि और समय: सूर्य सूर्य मीन राशि में गोचर हैं। 14 अप्रैल 2022 को सूर्य मीन राशि भविष्य में होगी। सूर्य के एक रेखा रेखा में जाने वाली घटना को संक्रांति कहा जाता है। मीन राशि में सूर्य के गोचर के साथ मीन संक्रांति होगी।। संक्रांति के हिसाब से बैशाख मास का आरंभ हो गया। सूर्य उच्च रेखा में और सूर्य के मीन राशि में जाने से ही रेखा वृत्ताकार में वृत्त क्रम होगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, सूर्य संक्रांति के दैत्य में स्नान करने और बदलने की परंपरा है। क्यूंके फ़ैसला से धन, सफलता, गुण व प्रजनन की… जानें मीन संक्रांति कब और क्या गुण काल ​​व महापुण्य काल-

29 से इन 3 राशियों पर शनिदेव की कृपा होगी

मीन संक्रांति 2022 कब है?

संबंधित खबरें

हिंदू पंचांग के आकार, सूर्य का मीन राशि से मीन राशि में प्रवेश 14 अप्रैल 2022, गुरुवार को होगा। सूर्यदेव मीन राशि में लॉग इन करें, ऐसे समय में मीन्स संक्रांति करेंगे। 14 अप्रैल 2022 तक 8 बजकर 41 पर सूर्य मीन राशि में प्रवेश।

मीन संक्रांति पुण्य काल – 05:57 ए एम से 01:12 पी एम
समय – 07 घण्टे 15 मिनट्स

मीन संक्रांति महा पुण्य काल – 06:48 ए एम से 11:04 ए एम
समय – 04 घण्टे 16 मिनट्स

देवगुरु बृहस्पति 13 अप्रैल से चौरी चाल, ज्योतिर्विद से जानें सभी 12 राशियों पर प्रभाव

मीन संक्रांति के नाम-

मिनर संक्रांति को देश में अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग हैं। पंजाब में मीन संक्रांति को बैसाखी पसंद है। बेनिसिली में बिहु में और इस में पोहला बोहाखैद।

मीन संक्रांति से मौसम पर कैसा व्यवहार प्रभाव-

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, मीन राशि में सूर्य, बुध और राहु की युति से तेज गति के योग बन रहे हैं। मौसम में आने वाले समय में परिवर्तन को देखने के लिए। औसत तापमान में बदलाव के कारण तापमान में परिवर्तन हो सकता है। इस स्थिति से राहत पाने के लिए.

रेरू के प्रभाव से इन 3 राशियों के जातक हो सकते हैं मालमेल, सूची में शामिल हैं आपकी राशि?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button