Lifestyle

Mercury Retrograde 2021 From September 27 To October 18 Budh Will Transit In Libra And Virgo Know Horoscope

बुध वक्री सितंबर 2021: मिथुन राशि के स्वामी बुध वक्री होने जा रहे हैं। यानि आज तेज गति से चलना। बुध का व्रकी होने ज्योतिष विज्ञान में विशेष है। बुध को बुद्धि और वाणी का कारक पाया जाता है। व्याध लेखन, तर्कशास्त्र, विज्ञान, ही, विनोद आदि का कारक भी बुध ग्रह को गया है। बुध का संपर्क त्वचा से भी है। बुध तो रास्ते से ही ऐसा होगा।

तुला राशि में बुध गोचर हैं, शुक्र पर शुक्र हैं। शुक्र और बुध की युति से लक्ष्मी नारायण योग बना है। बुध का वक्री होने मीन से मीन राशि के लोगों के लिए जा रहा है।

राशिफल: राशि में बुध का राशि परिवर्तन, मीन से मीन राशि पर व्यवहार प्रभाव, इन राशियों को धन के मामले में वैवाहिक, सवाधानी, जानें राशिफल

बुध विक्की 2021
पंचांग के हिसाब से 27 2021, मंगल को आश्विन मास षष्ठी तिथि: 10 बजकर 40 पर बुध वक्री। बुध 18 अक्टूबर 2021 तक वक्री अवस्था में। इसके कन्या राशि में बुध 18 2021 को वीवी से मार्गी।

राशिफल
बुध के वक्री होने पर सबसे अधिक कन्या राशि पर नज़र डालने के लिए। बुध का मान कर रहे हैं। इस घटना की घटना की घटना की स्थिति ऐसी स्थिति होगी। मीन, कर्क, सिंह और धनु विशाल दिखाई देने वाले दिखाई देने लगे। नए मामले की शुरुआत कर सकते हैं या फिर कर सकते हैं। मिथुन राशि, मिथुन राशि के लोग, मिथुन राशि वाले लोग भी ऐसे ही बने हैं। मकर राशि मकर राशि गणित में रुचिकर हैं। झंझट का.

यह भी आगे:
शनि देव: इन रेखांकन पर प्रकाश डालने वाला,

लक्ष्मी पूजा: लक्ष्मी नारायण योग, शुक्रवार को प्राप्त करें लक्ष्मी जी का आशीर्वाद

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button