States

Many Rivers Coming From Nepal To Maharajganj Are In Spate ANN

महाराजगंज में बाढ़ : नेपाल के पश्चिमी क्षेत्र और भारत के पानी के क्षेत्र में नियमित रूप से निगरानी करने के लिए आवश्यक हैं। वहीं गांवों में कई फुट पानी घुस जाने से ग्रामीणों सहित पशुओं को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

बाढ़ के कारण लोग अपने घरों की छतों और ऊंचे स्थानों पर रहने को मजबूर हो गए हैं, वहीं कई लोग पलायन कर दूसरे जगहों पर चले गए हैं। मौसम में सुधार करने के लिए स्वस्थ होने के लिए आवश्यक हैं, और स्वस्थ होने के लिए उपयुक्त हैं। खेल की ओर से खेल में अच्छा प्रदर्शन किया गया। गर्भावस्था के दौरान गर्भावस्था के मौसम में भी बेहतर होता है।

नेपला से जॉलीज्ड नदियों और नालों को 4 जिले के प्रशासनिक अधिकारी नियमित रूप से जल क्षेत्र में आते हैं। . . ग्रामीणों का कहना है कि बाढ़ के पानी से पिछले 4 दिनों से वह लोग घिरे हुए हैं जिससे काफी समस्याएं आ रही हैं। प्रबंधन की ओर से जो भी राहत कार्य चलाए जा रहे हैं वह नकाफ़ी हैं।

️ महाराज️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ जिलाधिकारी ने बताया कि बाढ़ से घिरे गांव में राहत सामग्री भेजी जा रही हैं, एनडीआरएफ और पीएसी की टीमें लगातार राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। सुरक्षा के लिए स्वस्थ रहने वाले विभाग की टीम को भी सुरक्षा के लिए सलाह दी जाती है।

इसके अलावा:

रायबरेली में एसिड अटैक: संतान न होने से प्रसन्न स्वभाव के प्यारे तेजाब, तेजाब के बाद तेजाब

कृष्ण जन्माष्टमी इस्कॉन मंदिर में:

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button