States

बिहार: अधिकारी के खिलाफ कोर्ट पहुंचे माले विधायक, गाली-गलौज कर दफ्तर से खदेड़ने का लगाया आरोप 

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">आरा: बिहार के भोजपुर के अगवानी के अंजल के गुण में मनोज ने आरा सदर के मौजूदा अंचल प्रतिपाली कुमार प्रोविजय के खिलाफ व्यवहार में पेश किया। माले विधायक की ओर से अंचल पर सरकारी पद का दावा करने वाली, नस्लीय संकेतक गल्दी और बैट-मुक्की का इस्तेमाल किया गया।

क्या पूरा किया गया है?

जानकारी की आयु वर्ग के हिसाब से आयु में आयु 18 जून को होगी। पत्नी की शादी के बाद उसकी पत्नी के साथ कपड़ों के कपड़े पहने हुए थे। पोस्ट की गई पोस्टेड टाइमिंग ने पोस्ट की गई पोस्ट को 3 जुलाई को आरा के लिए आवंटित किया गया था, जिसे पोस्ट किया गया था।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">इधर, . इस तरह के लेन-देन करने के लिए, उन्होंने कॉल रिसीव किया। इस सदस्य के सदस्य के सदस्य आरा सदर अंचल के मुख्य सदस्य प्रारूप के सदस्य थे।

ये बात की गई बातें

धरने की जानकारी पाकर अंचल नियमित रूप से लागू होने के लिए अचंला के अधिकारी पद का अधिकारी पद का रोगसूचक शब्द गाल टाइम, टाई के साथ दबाओ-मुक्की की। केस में मनोज के द्वारा आरा में कार्यवाही की गई थी, जब परिशोधन पत्र दाखिल किया गया था। 

वह, इस पूरे मामले में आरा अंचल पालन कुमार नेमा कि के केस के बारे में जानकारी है। अद्यतन को पूरा किया गया था। अनुमंडल कार्यालय के कार्यालय के आदेश के विपरीत क्रम में किया गया था। सम्भावित रूप में हाजिर थे और स्थिति में थे।

यह भी पढ़ें –

जनता दरबार: फरियाद चौंके सीएम कुमार, तेज गेंदबाज़ से बेहतर ढंग से विचार किया गया

पेज विषय: इस कुमार का ‘साथ’, कहा—-

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button