Panchaang Puraan

Magh Gupta Navratri 2022 date time puja vidhi difference between chaitra ashada navratri and Gupt Navratri – Astrology in Hindi

माघ शुक्ल क्लब की प्रतिपदा तिथि दो फरवरी से शुरू होने पर पूरी तरह से शुरू होगा। माँ आदिशक्ति की विशेष पूजा होगी। सनातन धर्म में गुप्त का विशेष महत्व है। ज्योतिषियों की माने जाने वाली विधियाँ 10 महाविद्याओं की विधिवती व्यवस्थाओं की जाँच करें।

पावापुरी के जय मां अंबे लोक के पेसर पं. पिंटू उपाध्याय ने मासिक धर्म की स्थापना की है। सक्रिय अद्यतन है I माँ दुर्गा के साधक कपड़े तक की चौड़ाई तक पहुँचने के लिए वे पूरी तरह से व्यवस्थित होते हैं। अच्छी जानकारी है I पैन. पेशाध्याय ने पेशाविवरण के रूप में पेश किया है-विवरण के रूप में यह क्रियाविशेषण है। रहस्योद्घाटन को पूरा करने के लिए निर्देश देना चाहिए। गुप्त में तांत्रिक महाविद्याओं को भी माँ दुर्गा जी की उपासना की प्राप्ति होगी।

राशिफल : मौसम की स्थिति खराब और फली, मीन, सिंह, कन्या, जीवन में पल

क्या खास है और गुप्त में:

  • मांपुरी दर्शन के पेसर पंपुरेंद्र उपाध्याय के समान गुणी गुणवर्द्धक और तांत्रिक पूजा की देखभाल करते हैं। पूरी तरह से खुद को निपुण करने के लिए साधनाएं पूरी करने के लिए हैं।

कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त:

-सुबह 07 बजकर 09 से 08 बजकर 31 तक।

-अभिजीत मुहूर्त में 11.24 से 12.36 बजे तक

माँ दुर्गा के इन स्वरूपों में पूजा होती है:-

  • माँ काली, माँ तारा, त्रिपुर सुंदरी, मेथी, माता छिन्नमस्ता, त्रिपुर भैरवी, माँ धूमावती, माता बगलामुखी, मातृ देवी और कमला देवी की पूजा

राशिफल : मीन, सिंह, तू, धनु मित्र आज कमाने धन-धन- दौलत, दैनिक जीवन और जीवन से खतरनाक समय

घोड़ा

  • गपशप पूरी तरह से करेगा। एक भी क्षे . ज्योतिष के जानकार डॉक्‍टर कुशलता से डॉ. बैठक, बैठक पर बैठक। ️ घोड़ा️️️️️

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button