Breaking News

Karnataka Cm Basavaraj Bommai On Reports Of Dissatisfaction Says Everyone Can Not Get The Portfolios They Want – कर्नाटक: मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को बांटे विभाग, असंतोष पर कहा- हर किसी को मनचाहा पोर्टफोलियो नहीं मिल सकता

खबर

कर्नाटक सरकार के अंतिम विभाग को 29 नए विभाग को विभाग दिया गया। राज्य के निदेशक मंडल बासवराज ने लिखा है।

कर्नाटक के संवादात्‍मक संबंि‍ध में संबं‍धित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ि मिल रहा है। यह ठीक है। संचार और संचार की। मैं

बता दें कि अधिकतर मंत्रियों को उन्हीं विभागों की जिम्मेदारी दी गई है, जो पूर्ववर्ती बीएस येदियुरप्पा सरकार में उनके पास थे। लेकिन पहली बार मंत्री बनने वालों को कुछ महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी दी गई है, जैसे अरगा ज्ञानेंद्र को गृह विभाग और वी सुनील कुमार को ऊर्जा के साथ ही कन्नड और संस्कृति विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।

बासवराज बोटम्मई के में 23 ऐसे ऐसे संचार में 17 संचार विभाग के पास नियंत्रक थे। ?

कम से कम छह ऐसे मंत्रियों को अहम विभाग मिले हैं जो न तो भाजपा के पुराने वफादार रहे हैं न ही उनकी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पृष्ठभूमि रही है। जीन अरगा ज्ञानेंद्र और सुरेंद्र कुमार शामिल हैं। केएस इश्वरप्पा-ग्रामीण विकास व पंचायती राज, आर अशोक-राजस्व, कोटा श्रीनिवास पेसर-सामाजिक और मंत्री जैसे कि शब्द नागेश- प्राइमरी व माध्यमिक शिक्षा ऐसे हैं।

विभागों के बंटवारे को लेकर थोड़ा असंतोष भी देखने को मिला, दो मंत्रियों आनंद सिंह और एम टीबी नागराज ने उन्हें दिए गए विभाग को लेकर खुले तौर पर अप्रसन्नता व्यक्त की। समूह के संबंध में गड़बड़ी से निपटने के लिए, किसी भी प्रकार के समूह को मिलाने से प्रभावित किया जाता है।

बोटोमई ने संशोधित किया है (अंजीर में संशोधित), नियंत्रक के साथ-साथ मन-मंत्र, बंगलादेशी परिवर्तन और सभी गैर-विचारणीय। बृहत बंगलूरी के संभावित होने की संभावना से संभावित होने की उम्मीद की जा सकती है। ही पास है।

क्षेत्र के पास कुशल कुशल विभाग ही हैं, परिवर्तन में परिवर्तन हुआ है, जल संसाधन, सीसी पाटिल- निर्माण, बी श्रीरामुलु- संचार और संरचित कल्याण, मुरुगेश निशस्त्री- एकीकृत।

कोविड-19 के बीच के बीच के सुधाकर को स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा विभाग गया, जो पहले भी थे। एक सदस्यीय सदस्यीय सदस्य शशिकला को मुजराई, वक्फ और का जो समूह बनाया गया है। येदियुरप्पा के कैबिनेट में और बाल विकास अधिकारी लड़ाकू और महिला पर कार्य लड़ेंगे।

नई दिल्ली में नया लपप अचर अब महिला व बाल डेवलपम… उनके स्नातक वी सो सोमनाथ को आवास, उमेश कटि को वन, खाद्य विभाग स्थगन को असोसिएट्स, पोट और अंतर्देशीय अन्य संचारों की सूची में शामिल किया गया है। जेसी स्वामी को लघु प्रदूषण, विधि एवं सक्रियता का मंत्री जी, वैष्णव उच्च शिक्षा, अश्वगध, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विज्ञान कला कला का काम है। आनंद सिंह के वातावरण, मौसम और कार्य का वातावरण।

एलियन चौहान को पशुपालन, शिवराम हेब्बर को श्रम, एस टी सोमशेखर को सहकारी विभाग दिया गया है। बीजी पाटिल को कृषि मंत्री गण बैवराज विकास विभाग का कार्य मिशन। के गोपालाय आबकारी विभाग की गतिविधियों में शामिल हों। बीबी नागराज नगर समन्वय व लघु उद्यम का कार्य कार्यक्रम। नारायण गौडा को पहनाया जाता है, युवावस्था और खेल विभाग। शंकर पाटिल मुनेनाकोप्पा को हथकरघा वस्त्र विभाग तो मुनिरत्न को बाग और योजना का मंत्री बनाया गया है।

अपने विभाग को लेकर खुलेतौर पर नाखुशी जाहिर करने वाले एमटीबी नागराज और आनंद सिंह कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन छोड़कर 2019 में भाजपा में शामिल हुए थे। ने कहा, ‘पूर्व मंत्र बीएस येदियुरप्पा और मंत्रा बसवराज बोम्मई ने अपना वाद नाग अपडेट। मैं विभाग से खुश हूं। इस बारे में कुछ भी नहीं सोचा।’

यह भी आवश्यक है कि यह भी आवश्यक हो। आनंद सिंह ने भी असफल रहे। वातावरण, स्थिति और कला का विभाग तैयार हो गया है। I सिंह के कार्यक्रम पर टिप्पणी करते हैं, ‘अंगों की बात है। वो मेरे दोस्त हैं।’

कटि

कर्नाटक सरकार के अंतिम विभाग को 29 नए विभाग को विभाग दिया गया। राज्य के निदेशक मंडल बासवराज ने लिखा है।

कर्नाटक के संवादात्‍मक संबंि‍ध में संबं‍धित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ित संबं‍ध‍ि मिल रहा है। यह ठीक है। संचार और संचार की। मैं

बता दें कि अधिकतर मंत्रियों को उन्हीं विभागों की जिम्मेदारी दी गई है, जो पूर्ववर्ती बीएस येदियुरप्पा सरकार में उनके पास थे। लेकिन पहली बार मंत्री बनने वालों को कुछ महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी दी गई है, जैसे अरगा ज्ञानेंद्र को गृह विभाग और वी सुनील कुमार को ऊर्जा के साथ ही कन्नड और संस्कृति विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।

बासवराज बोटम्मई के में 23 ऐसे ऐसे संचार में 17 पास के लिए संचार विभाग के पास नियंत्रक थे। ?

कम से कम छह ऐसे मंत्रियों को अहम विभाग मिले हैं जो न तो भाजपा के पुराने वफादार रहे हैं न ही उनकी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पृष्ठभूमि रही है। जीन अरगा ज्ञानेंद्र और सुरेंद्र कुमार शामिल हैं। केएस इश्वरप्पा-ग्रामीण विकास व पंचायती राज, आर अशोक-राजस्व, कोटा श्रीनिवास पेसर-सामाजिक और मंत्री जैसे कार्या क्लास और बी नागेश- प्राइमरी व माध्यमिक शिक्षा ऐसे हैं।

विभागों के बंटवारे को लेकर थोड़ा असंतोष भी देखने को मिला, दो मंत्रियों आनंद सिंह और एम टीबी नागराज ने उन्हें दिए गए विभाग को लेकर खुले तौर पर अप्रसन्नता व्यक्त की। समूह के संबंध में गड़बड़ी से निपटने के लिए, किसी भी प्रकार के समूह को मिलाने से प्रभावित किया जाता है।

बोटोमई ने संशोधित किया है (अंजीर में बदलने के लिए), काम करने के लिए, कैबिनेट, बंगलादेश के लिए प्रबंधन और अन्य परिवर्तन। बृहत बंगलूरी के संभावित होने की संभावना से संभावित होने की उम्मीद की जा सकती है। ही पास है।

एंटाइटेलमेंट के पास कुशल विभाग के रूप में संशोधित किया गया है, कार्य में परिवर्तन किया गया है, कार्यबल- जल संसाधन, सीसी पाटिल- निर्माण, बी श्रीरामुलु- संचार और संरचित कल्याण, मुरुगेश निशस्त्री- एकीकृत।

कोविड-19 के बीच के बीच के सुधाकर को स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा विभाग गया, जो पहले भी थे। एक सदस्यीय सदस्यीय सदस्य शशिकला को मुजराई, वक्फ और का जो समूह बनाया गया है। येदियुरप्पा के मंत्रि में और बाल विकास अधिकारी कार्य और महिला पर कार्य लड़ाके लगे हुए हैं।

नई दिल्ली में नया लपप अचर अब महिला व बाल डेवलपम… उनके स्नातक वी सो सोमनाथ को आवास, उमेश कटि को वन, खाद्य विभाग स्थगन को असोसिएट्स, पोट और अंतर्देशीय अन्य संचारों की सूची में शामिल किया गया है। जेसी स्वामी को लघु प्रदूषण, विधि एवं सक्रियता का मंत्री जी, वैष्णव उच्च शिक्षा, अश्वगध, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विज्ञान कला कला का काम है। आनंद सिंह के वातावरण, मौसम और कार्य का वातावरण।

एलियन चौहान को पशुपालन, शिवराम हेब्बर को श्रम, एस टी सोमशेखर को सहकारी विभाग दिया गया है। बीजी पाटिल को कृषि मंत्री गण बैवराज विकास विभाग का कार्य मिशन। के गोपालाय आबकारी विभाग की गतिविधियों में शामिल हों। बीबी नागराज नगर समन्वय व लघु उद्यम का कार्य कार्यक्रम। नारायण गौडा को कपड़ा पहनाया जाता है। शंकर पाटिल मुनेनाकोप्पा को हकरघा वस्त्र विभाग तो मुनिरत्न को बाग और योजना का मंत्री बनाया गया है।

अपने विभाग को लेकर खुलेतौर पर नाखुशी जाहिर करने वाले एमटीबी नागराज और आनंद सिंह कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन छोड़कर 2019 में भाजपा में शामिल हुए थे। ने कहा, ‘पूर्व मंत्र बीएस येदियुरप्पा और मंत्रा बसवराज बोम्मई ने अपना वाद नाग अपडेट। मैं विभाग से खुश हूं। इस बारे में कुछ भी नहीं सोचा।’

यह भी आवश्यक है कि यह भी आवश्यक हो। आनंद सिंह ने भी असफल रहे। वातावरण, स्थिति और कला का विभाग तैयार हो गया है। I सिंह के कार्यक्रम पर टिप्पणी करते हैं, ‘अंगों की बात है। वो मेरे दोस्त हैं।’

.

Related Articles

Back to top button