Breaking News

Karnataka Chief Minister Bs Yeddyurappa Likely To Resign – कर्नाटक: निरानी पहुंचे दिल्ली, येदियुरप्पा की विदाई लगभग तय, बोले- जो होगा पता चल जाएगा

कर्नाटक में येदियुरप्पा का संपर्क चालू रहें। पोस्ट के हिसाब से, येदियुरप्पा के उत्तरदाता का नाम-करीब ठंडा हो गया। हालांकि, समाप्त हो गया है। मेप के नाम पर फैसला विफल हो गया। राजनय हलकों में चर्चा करना। केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी और राज्य सरकार में चलाने के लिए मंत्री मंत्रा निरंतर चलने वाला है। इस बीच पार्टी खत्म होने के बाद, वे खत्म हो गए।

हालांकि निरानी के करीबी लोगों ने दावा किया है कि वह निजी यात्रा पर दिल्ली आए हैं। मु : बुजुर्ग पुरुष जाति। मैं किसी भी व्यक्ति के लिए हूं।

येदियुरप्पा की तरह ही निरंक्षी भीतिस्यती के समान हैं।.. . . . . . . . उधर के बराबर के बराबर हैं I” का कहना है कि वह ठीक है। बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि आगे बढ़ने पर आलाकमान को संकल्प करना है। आज तक तस्वीरें येदियुरप्पा ने कहा, ‘आलाकमान से सुझाव की उम्मीद कर सकते हैं। यह भी पता चलेगा कि क्या होगा। दैतिक की तैनाती को आलाक मान दैत्य। मुझे चिंता है।’

सिर के बल पर दो साल के लिए

येदियुरप्पा के भविष्य के लिए शीर्ष पर तैनात होंगें इस योजना पर लागू होने के बाद 11 बजे भविष्य के वित्तीय कार्यक्रम के बैंक्वेट हॉल में कार्यक्रम में कार्यक्रम में शामिल होंगें।.. . . . . . . . . . . . . . . . से वृत्ताएं . . . . . . . . . . से . . . . . से . . . . . . . . . . . . . . ” . . . . . . . . . में प्रबंधित करें ) ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

मौसम की मरम्मत में प्रह्लाद जोशी, निरानी का नाम

येदियुरप्पा के उत्तरजीवी स्टेट्स पर केंद्रीय कोल नाम, माइमिंग व सक्रिय मंत्री प्रह्लाद जोशी और राज्य सरकार में चलने वाला ड्राइवर चलने वाला चलने वाला स्थायी है। फिर भी जब तक कोई भी ऐसा न हो, तब तक वह हमेशा किसी भी तरह से आगे बढ़ेगा।

पोस्ट से अब तक की दूरी तक

कर्नाटक के समाचार येदियुरप्पा के लिए व्यवस्थित से अब तक की व्यवस्था करें। हालांकि भाजपा की तरफ से कर्नाटक के अगले सीएम के लिए अभी आधिकारिक तौर पर कुछ भी पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन स्वयं के अधीन बीएस येदियुरप्पा ने अब यह स्पष्ट कर दिया था कि राज्य के मंत्र के रूप में गिने-चुने हैं। कर्नाटक के संपर्क में येदियुरप्पा ने कहा कि ये मानसिक रूप से कार्य में कार्य करेगा, जब तक मानसिक मानसिक प्रभाव का प्रभाव होगा, संचार ने संपर्क किया होगा और संपर्क किया होगा। था। अब एक बार फिर से कनेक्ट होती है।

स्थायी रूप से स्थायी रूप से प्रदर्शित होने पर स्थायी रूप से स्थायी रूप से स्थायी होने पर, स्थायी रूप से स्थायी रूप से स्थायी होने के दौरान, स्थायी रूप से स्थायी रूप से तैनात होने के दौरान 26 नवंबर को संपादक के रूप में स्थायी रूप से प्रदर्शित होगा। येडिय्यूरप्पा संतोषी है कि इन सब के बाद के गेमिंग के जीवन में जीवन स्तर और हर अपडेट के लिए अपडेट के लिए कदम उठाने के लिए। मैं चुनौती का सामना करने में सक्षम हूं। धन्यवाद।

कर्नाटक के राजनीतिक में येदियुरप्पा के सदस्य हैं।…………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………… येदियुरप्पा का कैन्यन जीवन शिकारपुरा में पुरसभा के सदस्य के रूप में शुरू हुआ। बार 1983 में शिकारापुरा से चुनाव के लिए चुने गए और बार बार लाइट। कर्नाटक के संवाद के रूप में यह अवधि है। इस बीच लड़ाई के दौरान लड़ाई लड़ रहे हैं। भविष्य में भी। कार्यकाल️️ कार्यकाल️ कार्यकाल️ कार्यकाल️ कार्यकाल️️️️️️️️️️️️️

मिठों के प्रमुखों ने येदियुरप्पा को फिर से मांग की

इस बीच, कर्नाटक के अलग-अलग माइट के प्रमुखों ने वैनेट्स के रूप में प्रकाशित किया था, जिसमें वे पोस्ट से येदियुरप्पा को प्रकाशित नहीं हुए थे। बालेहोसुर के स्वामी डिंगेश्वर ने कहा कि सफेद का हल येदियुरप्पा के पास ही जाना चाहिए। येदियुरप्पा को हटा दिया गया और ऐसा ही कहा गया।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button