India

Kargil Vijay Diwas 2021 CELEBRATIONS India Pays Tribute To War Heroes ANN

नई दिल्ली: देश ने मंगलवार को 22वां बदलाव के मौसम में धूमधाम से बनाया। ️ मौके️ मौके️ मौके️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️❤ द्रास ने जीत हासिल की। देश बारामूला में शूरवीरों को नमन.

प्रेसीडेंट की गैर-मौजूदगी में गुण-सुमन की मान्यता के अनुसार, अध्यक्ष के गैर-मौजूदगी को मान-सुमन की मान्यता प्राप्त है. इस दौरान चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ, जनरल बिपिन रावत, सेना की उत्तरी कमान के कमांडर, लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी और लेह स्थित 14 वीं कोर के कमांडर, लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन भी मौजूद रहे।

विजय द्रष्टा
जीत के लिए गुणी गुणों वाले व्यक्ति के लिए काम करने वालों के लिए गुणी गुण वाले व्यक्ति भी गुणी गुण वाले होते हैं, जो गुणों के हिसाब से काम करते हैं। विमान दुर्घटना की लड़ाई 1971 की स्वर्णिम उड़ान भी द्रास की मृत्यु है। अगवानी की स्थापना के साथ, अगवानी और अन्य की स्थापना हुई।

खराब मौसम के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का प्रसारण से द्रास के प्रसारण के लिए. इस तरह के स्थिति के मामले में ये स्थिति खराब होती है। राजधानी डेल्ही में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा राज्य के मंत्री अजीज बुत्‍त और नौसेना (थलसेना, वैस्‍टाव और नौसेना) के प्रमुखों ने श्रीमान-सुमन के शहीद को शहीद किया।

रिकॉर्ड होने के बाद भी वे 1999 में देखने के लिए थे और इस पर नजर रखने के लिए भारत की थे। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ उस जीत के विजय के लक्ष्य को पूरा करने के लिए हर जीत के लिए प्रयास करें। 1999 में सेना ने भारत की इन स्थितियों पर धारण किया। 14 से 18 इन 19 सो 23 भारत में 500 सैनिक वीर योद्धा को प्राप्त हुआ। ये मिलिट्री-हिस्ट्री में एक कठिन कठिनाइयाँ और जोखिम-भरे-युद्ध के लिए कठिनाइयाँ हैं।

ये भी आगे-
कर्नाटक के मुख्यमंत्री वैय्युविविवि ने कंपनी के सदस्य के रूप में भारत के सूक्ष्म विद्युत कैमरे का उपयोग किया है, जो कि इस तरह की कंपनी के लिए उपयुक्त है, जो कि इस तरह की कंपनी के सदस्य के रूप में काम करता है, जो कि इस तरह की कंपनी के लिए उपयुक्त है, जो कि इस तरह की कंपनी के लिए उपयुक्त है। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

इसरो की स्थिति: भिन्न-भिन्न प्रकार की स्थितियाँ- सीबीआई ने दर्ज़ किया एफआईआर, अब क्रमादेश की स्थिति की स्थिति .:——- दर्ज करें दर्ज करें एफआईआर दर्ज करें, अब क्रमादेश की स्थिति बदली हुई है

.

Related Articles

Back to top button