Panchaang Puraan

Kamika Ekadashi 2021: Kamika Ekadashi on 4 August 2021 How to please Lord Vishnu know Puja Vidhi and Subh Muhurat – Astrology in Hindi

श्रावण या सावन मास की एकादशी कामिका एकादशी है। यह सावन मास के कीटाणुओं को प्रदूषण से बचाने के लिए है। साल कामिका एकादशी 04 अगस्त गुरुवार को। एकादशी दिनांक विष्णु को अंतिम तिथि कहते हैं। इस प्रकार इस श्रीहरि की विधि-विधान की व्यवस्था है। ி

कामिका एकादशी शुभ मुहूर्त-

दिनांक 03 अगस्त दिन की तारीख 12 बजकर 59 से शुरू होगी और 04 दिन गुरुवार को 03 बजकर 17ाद पर समाप्त होगी। सर्व सिद्धि 04 अगस्त को 05 बजकर योग 44 से 05 अगस्त तक:25 बजे तक।

लिंक्स से काम करने के लिए काम करने के लिए:

कामिका एकादशी व्रत का पारण-

एकादशी व्रत का पारण 05 अगस्त को 05 बजकर 45 मिनट से 08 बजकर 26 मिनट के बीच होगा।

विष्णु को ऐसा प्रसन्नता-

कामिका के अंतिम दिनों में विष्णु की आरती एक सुंदरी थीं। देखभाल करने के बाद पूरी तरह से देखभाल करने के बाद पूरी तरह से देखभाल करें और पालन करें।

26 अगस्त तक बुध इन राशियों के जीवन में खुशियाँ,

कामिका एकादशी महत्व-

उसके पापों से काम करने की गति वाली. इस व्रत का महत्व खुद के कृष्ण कृष्ण ने धर्मराज युधिष्ठिर कोमा था।

एकादशी व्रत पूजा-विधि

  • जल्दी जल्दी उठो।
  • घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें।
  • विष्णु का गंगा जल से अभिषेक करें।
  • विष्णु को पुष्पित और समूहित करें।
  • ️ अगर️️️️️️️️️️️️️️️
  • गोकू की आरती करें।
  • भोग को भोग भोजन। इस बात का विशेष रूप से सम्‍बन्‍ध में अच्‍छी बात है। विष्णु के भोग में शामिल हों। पर्यावरण के अनुकूल होने के बाद, विष्णु वातावरण में भोजन करते हैं।
  • पावन भगवान विष्णु के साथ इस माता लक्ष्मी की पूजा भी करें।
  • इस व्यक्ति का अधिक से अधिक ध्यान दें।

.

Related Articles

Back to top button