Panchaang Puraan

jupiter transit 2021 in capricorn shani aur devguru brihaspati makar rashi mein horoscope rashifal future predictions – Astrology in Hindi

शनि ग्रह पर शनि ग्रह पर हमला करने वाला ग्रह है। इस शनि मकर राशि में विराजमान हैं। देवगुरु भी 14 तारीख को मकर राशि में प्रवेश करेंगे। देवगुरु बृहस्पति इस राशि में 21 नवंबर तक विराजमान है। देवगुरु बृहस्पति और शनि के एक आने वाला शुभ योग बन रहा है। शुभ योग के निर्माण से कुछ राशियों को आनंद हो रहा है। इन राशियों पर कुछ समय तक माँ लक्ष्मी की विशेष कृपा करें। दैत्य गुरु और शनि के ही राशि में आने वाले होते हैं जैसे कि एक भविष्यवक्ता जा रहा है…

मीन राशि

  • मीन राशि के लिए गुरु और शनि का राशि में परिवर्तन शुभ हो।
  • माँ लक्ष्मी की कृपा से अर्थव्यवस्था मजबूत होगी।
  • नौकरी के लिए सुरक्षा।
  • उत्तम चिकित्सा।
  • मान-सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
  • कामयाबी हासिल की।
  • आपके द्वारा की गई प्रशंसा की जाएगी।

मीन, सिंह, वृश्चिक राशि का भाग धन-धन-दौलत, सूर्य की तरह दिखने वाला भाग्य

वृष राशि

  • वृष राशि के जातकों के लिए गुरु और शनि का एक ही राशि में आने वाला वरदान से कम है।
  • धन लाभ होगा।
  • माँ लक्ष्मी की विशेष कृपा।
  • नौकरी और व्यापार के लिए शुभ है।
  • निवेश से लाभ होगा।
  • कामयाबी में।

धन- हानि से हैं परेशान तो 10 दिनों तक रोजाना करें ये उपाय, बरसेगी मां लक्ष्मी और बप्पा की कृपा

कर्क राशि

  • कर्क राशि के जातकों के लिए गुरु और शनि का एक ही राशि में आना शुभ होता है।
  • दंपत्य जीवन सुखमय ज्यू.
  • माँ लक्ष्मी की कृपा से लाभ होगा।
  • मान-सम्मान।
  • पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि।
  • व्यापार में शामिल हों।
  • रिकॉर्डिंग में आपके द्वारा की गई जानकारी।

गुरु कृपा से आने वाले 4 साल के लिए ये जोड़े शादी के बंधन, नौकरी और व्यापार में परिवर्तन

मीन राशि

  • गुरु और शनि के एक ही राशि में आने से मीन राशि वालों को आनंद मिलेगा।
  • माँ लक्ष्मी की विशेष कृपा।
  • डेस्टिनेशन के लिए शुभ समय है।
  • कामयाबी हासिल की है।
  • परिवार के सदस्यों की सहायता प्राप्त होती है।
  • जीवन सुखमय ज्यूरिख।

(इस जानकारी में यह जानकारी है।)

.

Related Articles

Back to top button