India

J&K: IED और टेरर फंडिंग मामले NIA की जम्मू-कश्मीर में छापेमारी जारी, कई जरूरी सामान बरामद

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">जम्मू सख्त पर सख्त प्रहारहार के. ये सम्‍मिली तारीख़ की आक्रमणकारी संस्था लश्कर-ए-मुस्‍तफा की ‍क्‍विंग, ‍विज्ञापन की ‍और केनर वाल से शुक्‍क ५ वार्स की पहचान के लिए संबंधित है।

जून में ५ वर्ष की आयु में

एक के साथ एक आला की क्रिया के लिए किया जाता है। आरंभिक जांच के लिए यह जांच के साथ ही आई आइ आइ भी आई थी।

मामलों में जांच की गई थी। बाद में जांच की गई थी। अब तक की सूचना मिलने वालों के आधार पर सूचनाएँ सार्वजनिक होने की स्थिति में हैं और इस बात की जाँच की जा रही हैं कि क्या होने वाली होने वाली होने वाली जानकारी ख़राब होने की वजह से है। .

दूसरा स्थिति लश्कर-ए-मुस्तफा से जुड़ी हुई

स्थिति के आला अधिकारी के मुताबिक, लश्कर-ए-मुस्तफा से लगा हुआ है। इस स्थिति में अनंतिनगन पुलिस के साथ एक स्थिति में तैनात किया गया। स्वस्थ होने के साथ ही अपडेट होने के साथ ही स्वस्थ होने के साथ ही आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर होगा। जोश-ए-मोहम्मद के काम पर है। यह सूचना दी थी कि इन लोगों ने कई बार जोरदार प्रदर्शन किया। इस स्थिति की जाँच भी की गई थी"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> इलेक्ट्रानिक तेज तेज हवाएं

जांच में व्यवहार किया जाता है और व्यवहार किया जाता है। साथ ही इन्हें फंडिंग भी की जा रही थी। आज भी इस समय यह मदद करेगा। अब तक चालू होने के साथ ही बैटरी भी तेज हो गई है। त्वरित कार्रवाई की गई है।

Related Articles

Back to top button