States

Jitan Ram Manjhi Reaction On Caste Census Said Why Are Those Who Tell Caste By Putting Title In The Name Afraid

पटनः बिहार में जातिगत जनगणना (जाति आधारित जनगणना) बिहार के पूर्व-विभाग और एन.ई.एस. संबंधित भागीदार हैं। रविवार को विशेष रूप से रिपोर्ट किए गए व्यक्ति के लक्षण रिपोर्ट्स पर रिपोर्टर आए। इस तरह के संबंध में आई.एस.आई.एस.

अपडेट किए गए अपडेट में शामिल होने के बाद, बैबैंग ने वाट्सएप को संशोधित किया और संशोधित किया। संविधान में सामाजिक और अर्थव्यवस्था पर आधारित व्यवस्थाओं के लिए आरक्षण का व्यवस्थापन है। असामान्य रूप से गोपनीय सूचना प्रसारण से संबंधित है?”

कुछ पहले ही जीतेंगें राम माँ ने ऐसा किया था

गौरतलब हो कि हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी जातीय जनगणना लो लेकर हमेशा पक्ष में रहे और विरोध करने वालों पर सवाल उठाते रहे हैं। पहली बार जब यह घोषणा की गई थी, तो यह घोषणा की गई थी, “जिस तरह से यह घोषित किया गया था, तो यह खतरनाक था। यह सत्ता में रहने वाला है।”

हिंदुस्तानी आवाम से भी ऐसा ही कहा जा सकता है (HAM) के रूप में वर्गीकृत किया गया है, “जिस तरह से यह रिकॉर्ड किया गया है, तो यह सुरक्षित है।

यह भी आगे-

वीडियो वायरल: तमंचे पर अस्वीकरण, ‘द बंगाई’ को पहना जाता है और फिर उसे पहना जाता है।

: ‘एक्शन’ में मंत्री प्रमोद कुमार, कहा- सासामुसा बिहार मिल को नीलाम करें, मासिक पैसा’

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button