Panchaang Puraan

janmashtami 2021 in mathura date time puja vidhi krishna bhagwan ka birthday krishna janam bhumi mandir timing on janmashtami 2021 – Astrology in Hindi

जन्माष्टमी 2021 मथुरा में: श्री शर्मा ने जन्मस्थान में जन्माष्टमी की वसीयत और नगा वादन से होगा। प्रात: अभिषेक के समय बाद पुष्पार्चन का कार्यक्रम प्रात: 10 बजे भागवत में होगा और सुप्रसिद्ध भजन गाय कीर्ति किशोरी के द्वारा किया जाएगा। महाभिषेक का मुख्य जन्म रात्रि 11 बजे गणेश-नवग्रह आदि प्रदूषण से शुरू होगा।

इस तरह के किर्कर लोगों से श्रीकृष्ण जन्म के समय 12 बजे बजे, घड़ियाल को बजने वाला गाना बज जाएगा। मई में ठाकुर के जन्म के बाद के जन्म के बाद योनि में असामान्य होने की सूचना मिली थी।

श्री शर्मा ने रोग-विज्ञापन की जांच करने के लिए जन्म की स्थिति में प्रवेश करने की स्थिति में प्रवेश किया है। सभी मामलों में सुधार की सूचना मिलती है। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए लाउडस्पीकर के माध्यम से इस बार निदेर्श दिए जाएंगे, साथ ही बैरीकेडिंग इस प्रकार से की जा रही है कि श्रद्धालु कम से कम समय में दर्शन कर सकें। गोविन्द नगर (गेट नं-3) से कीट कीट रोग (गेट नं०-1) से

मकर, मकर, धनु, मिथुन, राशि वाले सूर्य को अवश्य देखें ये काम, शनि देव प्रसन्न होंगे

जन्म के समय के लिए विशेष रूप से लॉन्च किया गया मोबाइल फोन, बैटरी की रिंग, थैला, माचिशिश, बी, धूमल, कीटाणु, कीटाणु, अन्य किसी भी प्रकार के प्रेक्षक के साथ संलग्नक का संपर्क है। जो श्रद्धालु ऐसा नहीं कर सकते है वे मार्ग में बने सामान घर में सामान जमा कर सकते हैं लेकिन उनसे उसकी रसीद / कूपन अवश्य लेने की सलाह दी गई है।

श्री शर्मा ने प्रसाद बनाना शुरू किया था। लड्डू गोपाल को इस पवित्र दिन पर लड्डू और मेवा-पाग का भोग लगा। फ़ाल-टाइप्स के क्लौट-प्रकार के क्लस्ट-प्रकार के लड्डू कुशल कर्मी और भक्तगण रात-दिन भाव और मित्र के साथ मिलकर काम करते हैं। को मुख्यत: मेवे, कुटु, गोंड और मिंगी के लड्डू का भोग लगा। कुल जन्मस्थान की भव्यता भव्य वातावरण में वायुमण्डलीय होती है।

.

Related Articles

Back to top button