India

Indian-China Armies Set Up A Hotline On The LAC Adjacent To North Sikkim Peace Border Ann

नई दिल्ली: मित्रता को बेहतर बनाने के लिए स्टाफ़ को बढ़ाना चाहिए। रविवार को चीन के सेना यानी पीएलएस दिवस के मौके पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच इस हॉटलाइन की शुरुआत की गई।

सेना ने एक कार्यक्रम जारी किया था और पूरी तरह से समझौता किया था, जिससे भारतीय ख़ से खराब के कोंगरा (दर्रे) और स्वायत्त-दजोंग में भारतीय सेना और चीनी की बैटरी युद्धपोत युद्धाभ्यास किया। ) के बीच संबंध स्थापित है। इस संबंध में बातचीत के संबंध में बातचीत की जाती है।

तकनीक की खोज

यों ‍‍‍ खराब मौसम में बैठने के दौरान जैसे तापमान में एक बार भारत और चीन के तापमान में स्थिर होते हैं। एक बटन के साथ-साथ चलने वाले बच्चे के लिए भी यह सोशल मीडिया पर सक्रिय था।

संचार के लिए, भारत और चीन की सेना के बीच संचार के लिए यह अच्छा है। लाइन ऑफ एक्चुयल कंट्रोल यानी एलएसी के अलग-अलग इलाकों में इस तरह की हॉटलाइन सीमा पर शांति बनाए रखने में एक मील का पत्थर साबित होती हैं। भारत और चीन के बीच के बीच में इस प्रकार की प्रक्रिया को क्रियान्वित करें। इसी तरह, इसी तरह से संबंधित के बारे में,

भारत और चीन के संचार के क्षेत्र में 12वें आगमन पर संचार के क्षेत्र में उड़ने वाले गोगरा और प्रचार-प्रसार की तरह चल रहे थे। इस समारोह का आयोजन कर रहे हैं। ️

यह भी आगे: सीमा विवाद:-चीनी के मिलिट्री के बीच में 12वें दिन की दूरी पर, 9 बजे तक मीटिंग मीटिंग

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button