Covid-19

India Is Likely To Start Vaccinating Children By September, AIIMS Chief Dr Randeep Guleria. 

भारत में मेरो सितंबर अखिल भारतीय विज्ञान संस्थान (एम्स) के प्रमुख डॉ रणदीप गुलेरिया (डॉ रणदीप गुलेरिया) ने इस तरह के संबंधों को विकसित किया है। गुलेरिया ने कहा, यह उचित है। भारत बायोटेक (भारत बायोटेक) की कोवाक्स (कोवाक्स) का पूरा विवरण निम्न प्रकार से तैयार किया गया है। दूसरी ओर फाइजर की वैक्सीन को अमेरिकी नियामक से आपातकालीन मंजूरी मिल चुकी है। इस तरह से भविष्यवाणी की जाती है कि हम भविष्य में रिकॉर्ड करें।

ख्याति में
अब तक पूरी तरह से प्रभावी 42 करोड़ से कम से कम एक डोज भारत में हैं ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️❤️ अब तक देश में 6 प्रतिशत जनसंख्या को ही बाजी मार ली जाती है। इस वयस्कों करना हर दिन 1 करोड़ डोजनी चार्ज. हर 40 से 50 लाख लोग इस तरह के होते हैं। ️ उद्देश्य️ उद्देश्य️ उद्देश्य️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है से कोरोना ???????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????? जोखिम तीसरी

घातक रोग
एम्स चीफ ने कहा कि . इस प्रकार भारत बाय टेक और जैसिड्स इलेस्टेशन की मारक मारक क्षमता है। ️ाइजर️ाइजर️️️️️️️️️ इस दिशा में हमें उम्मीद है कि सितंबर तक बच्चों के लिए एक से अधिक वैक्सीन हमारे देश में उपलब्ध हो जाएगी।

ये भी आगे-

टोक्यो ओलम्पिक 2020 लाइव: मेन्यूज़ में भारत की अच्छी शुरुआत

जोमैटो लिस्टिंग: जोमैटो ने पहले ही बाजार में कोल इंडिया और एम एंड एम को

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button