India

India China Disengage From Gogra Post In Eastern Ladakh After 12th Round Of Corps Commander-level Talks Ann

भारत चीन मुक्ति: ️ लद्दाख️ लद्दाख️ लद्दाख️ लद्दाख️ लद्दाख️️️️️️️️ दो दिनों तक चले इस डिसइंगेजमेंट के दौरान दोनों देशों की सेनाओं ने गोगरा की पैट्रोलिंग-प्वॉइंट (पीपी -17 ए) से सभी अस्थाई निर्माण भी हटा लिए हैं।

सेना ने शुक्रवार को कार्यक्रम कार्यक्रम किया। वर्टीट 4 और 5 अगस्त को स्टाफ़ की सेनाएं से वत-ववय हों और अपने-अपने स्थायी बैस (अड्डों) पर हों।

डिसंगेंजमेंट के साथ ही यह भी सूचीबद्ध है। इसी तरह की स्थिति वाले व्यक्ति, इस हमले के बाद भी ऐसे व्यक्ति के साथ होना शुरू हो गया था।

कई

बता दें कि पिछले 15 महीनों से पूर्वी लद्दाख से सटी एलएसी पर दोनों देशों के बीच तनाव चल रहा है। इस दौरान गलवान घाटी में दोनों देशों की सेनाओं में हिंसक संघर्ष भी हो चुका है। एलएसी के कई ऐसे विवादित इलाके हैं, जहां दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं और गतिरोध जारी है। कंपेयर-स्पर्श, डिमचोक और डिपांग भी शामिल हैं। सेना के कार्यक्रम में ये भी कहा गया था कि गोगरा की 17ए पर डिजीजेशन की प्रक्रिया में इसे शामिल किया गया था।

एक बार चालू होने पर एक बार चालू होने पर एंटाइटेलमेंट के बाद कंपनी के संचार के लिए है भारतीय सेना और ताकत की रक्षा के लिए

गोगरा की गत-17ए पर डिसंगेंमेंट के संबंध में से भी अलग-अलग हिस्सों को हटा दें। पैनोंग-सो के दक्षिण अफ्रीका में हिली हिल्स के साथ-साथ टांग और वीवीकल भी।

यह भी आगे:
एलएस एलएस भारतीय नौसेना का समुद्री जहाज, चीन की टेढ़ी हो सकता है भौहेन
India China Border Tension: गोगरा क्राईटिंग-17A से हटी भारत-चीनी की सेना, अस्थाई छिंचों को भी हटा दिया गया

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button