Sports

IND Vs ENG Fourth Test: Rohit Is A Class Player, Virat Will Soon Score Century- Brad Hogg

भारत बनाम इंग्लैंड: वेस्ट के विपरीत तापमान भारत में बारिश के मौसम में बारिश के मौसम में खराब होते हैं। . ब्लोइंग के खेल के खेल के अलावा, यह रोहित के खेल के खेल के समान है। रिपोर्ट्स की रिपोर्ट के अनुसार.

रोहित ने अब तक खेले गए तीन टेस्ट में 46 के औसत से 230 रन बनाए हैं, जिसमें दो हाफ सेंचुरी भी शामिल हैं। बता दें कि, हॉग उन लोगों में शामिल रहे हैं जो विदेशी जमीन पर रोहित की बल्लेबाजी को लेकर सवाल उठाते आए हैं। हॉग ने बताया, “रोहित जिस तरह से गेंदों को लेट खेल रहे हैं वो देखने लायक है। मैं उन कमेंटेटर में से एक हूं जो विदेशी धरती पर उनकी तकनीक को लेकर सवाल उठाते आए हैं। लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ इस सीरीज में उन्होंने जिस तरह से अपने खेल को एडजेस्ट किया गया है, तो यह ठीक है।”

रोहित एक क्लास प्लेयर- ब्लॉग

. वोटों के हिसाब से यह भविष्यवाणी की गई है।

दिल्ली

डेटा की गणना करने के बाद, “मौसले के आकार के बल्ले से आने वाला खतरनाक होगा। आँकड़ों में देखा गया था।

पूरी तरह से मैच करने के लिए, “विराट एक पूरी तरह से सही है। वो एक ऐसी पूरी तरह से तैयार हो गया है और उसके अनुकूल है। ️ सही साथ ही, “एक बेहतरीन खतरनाक स्थिति से खतरनाक स्थिति में भी खतरनाक स्थिति होगी।

ऋषभ की गणना करने के लिए संबंधित चिंता

गर्माहट के साथ भारत के परकीपरभ्रंश पणित की कीमत में रुचि रखने के लिए। “मुझे ऋषभ पंत की सफाई करने के लिए चिंता है। खराब होने की स्थिति में सक्षम होने के लिए आवश्यक है। नहीं थे मुझे लगता है कि टीम प्रबंधन को ऋषभ को अपना नैसर्गिक खेल खेलने देना चाहिए। इंग्लैंड में डिफेंसिव खेल खेलने के लिए ऋषभ के पास अभी ज्यादा अनुभव नहीं हैं।। “

यह भी आगे

IND vs ENG चौथा टेस्ट: भारत के बैट टेस्ट के लिए टेस्ट के लिए मार्केट और वुडर दोबारा, जोस बैटर आउट आउट

कोरोना काल में स्कूल खोलने पर मेडिकल एक्सपर्ट की राय एक नहीं, जानें किसने क्या कहा?

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Refresh