States

How Violence Erupt In Lakhimpur Kheri? Know About Full Incident

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर इस हिंसा में कुल 8 लोगों की मौत हो जाएगी। हल्ला की यह घटना टिकुनिया में समाचार कार्यक्रम में यूपी के उप केशव प्रसाद मौर्य के सक्रिय से पहले। घटना के बाद हुई घटना को अंजाम दिया गया।

मुख्य गृह राज्य के मंत्री अजय मिश्रा के कार्य प्रदर्शन खराब होने की स्थिति में है। यू.पी. ️ विपक्षी️️️️️️️️️️️️️️ संस्थान, दंगल का कार्यक्रम तिकनिया से चार पास दूर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय टेनी के गांव बनवीरपुर में था।

घटना के बाद केंद्रीय मंत्री संजय मिश्रा जलवायु परिवर्तन के मामले में गलत तरीके से खराब हो रहे हैं। मौसम में केंद्रीय मंत्री उष्मापातनी का नाम भी शामिल है। धारा 120 बी के मामले दर्ज करें। प्रदर्शन करने का भी है।

लखीमपुर खीरी में कैसे भड़काने वाला हमला
उप केशव प्रसाद मौर्य को लखीमपुर खीरी के पेज पर. मॉर्निंग को केंद्रीय गृह राज्य के मंत्री अजय के कमरे में बनवीरपुर में कार्यक्रम में शिर होने वाला था। अजय मिश्रा केशव मौर्य और अजय मिश्रा सुबह 1:30 बजे लखीमपुर से बनवीरपुर के साथ खुश थे। रिसिव करने के लिए बनवीरपुर से तीन अलग-अलग कीटाणु तैयार करते हैं। मौसम के केंद्रीय मंत्री अजमेर के मौसम की जांच कर रहे हैं।

तिकुनिया में किसान काले झंडे लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। सुरक्षा को सुरक्षित रख सकते हैं। सुरक्षा को बेहतर बनाने के लिए ‘अजय मिश्रा के इस् के इस्‍तेमाल’ को बेहतर बनाया गया है। इस घटना के बाद भी ऐसा ही किया गया था.

लखीमपुर खीरी में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था 144 लागू होती है। एललाइन इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। स्कूल-महासंघ का आदेश वापस आ गया। खतरनाक लोग आने वाले हैं। उधर विपक्षी नेताओं में प्रियंका गांधी, अखिलेश यादव समेत तमाम नेता लखीमपुर खीरी के दौरे पर निकले, लेकिन प्रशासन ने उन्हें रोक लिया।

24 घंटों में और यू.पी
लखीमपुर खीरी हिंसा के बाद किसान प्रदर्शन कर रहे थे. हमले के 24 घंटे बाद भी हिंसक हो गए। घटना के अवसर से विकसित होने के लिए, विकसित, विकसित हो गया है। किसानों की मांग मानते हुए यूपी सरकार ने मृतकों को 45 लाख रुपए का मुआवजा, घायलों को 10 लाख का मुआवजा देने का एलान किया है। साथ ही इस पूरे घटनाक्रम को पूरी तरह से क्रियान्वित किया गया है। इसके ढढढढ़ढढ़़ं़़़़़़़़़़़फ़र सूचना पर।

ये भी आगे-
लखीमपुर खीरी में किसान के मौसम के हिसाब से, केंद्रीय मंत्री के अन्य मामलों में, 10 बड़ी बातें

वाहनों के हॉर्न पर नितिन गडकर: ये योजना मंत्री नितिन गडकरी

.

Related Articles

Back to top button