Lifestyle

How To Worship Shiva And Parvati Properly On Hariyali Teej 

हरियाली तीज : प्रतिवर्ष तृतीय सफेद इस बार 11 अगस्त को दैहिक इस दिन अपने पति की आयु और पूरे दिन निराजल व्रत के लिए। हरियाली तीज पर्व को करवा चौथ के व्रत से बहुत अधिक बढ़ गया है। कि कि कि किार्वी की महादेव शिव और मय पार्वती की मन से की पेशी और व्रत से अखंड का लाभ मिलेगा और घर में सुख-शांति और समृद्धि है।

हरियाली तीज की पूजा सामग्री
बेलपत्र, केला मौसम, धतूरा, आकप, तुलसी, शमी, काली रोग, जनेऊ, और नया कपड़ा।

पार्वतीजी की सामग्री
चूड़ियां, महावर, खोल, सिंदूर, बिछुआ, गलत, सुहागचुड़ा, कुमकुम, और सुहागीन सम्बधित। अलाइन श्रीफल कोनी, कलश, अबीर, चंदन, तेल-घी, कूपर, दही, दही, भी, दूध, पंचामृत महत्वपूर्ण है।

पूजा का तरीका
– तीज पर शाम से लेकर व्रत के बाद शाम तक पूजा होती है।
-रेव के भोनाथ, मां पार्वती की लेप्री मन्सा की पूजा की पेशी है।
– डाक पर कीट पर गंगाजल शिवलिंग शिव परिवार है।
– पूजा के लिए देवता से रिद्धि-सिद्धि, पार्वती और सहेली की मूर्ति है।
– नियमित रूप से नियमित व्रत रखें सुहागिनों को का स्मृति चिन्ह.
– कोशाम शुभ मुहूर्त में पूजा-पाठ के बाद व्रती व्रत पूजा करते हैं।
– हर प्रहर पूजा कर्व-पत्र, औसत दर, बिल्लैक भुगतान, केवड़ा करदाता आरती.

पूजा का शुभ मुहूर्त
व्रत तिथि: 11 अगस्त गुरुवार
राहुकाल: गुरुवार की सुबह 12:00 से 1:30 बजे तक।
कल काल: श्रावण शुक्ल की समाप्ति तिथि तिथि, 10 अगस्त शाम 06.11 बजे से 11 अगस्त 2021, गुरुवार को 04.56 बजे समाप्त होगा।
अमृत ​​काल: 01:52 से 03:26 बजे तक
ब्रह्म मुहूर्त : सुबह 04:29 से
विजय मुहूर्त: दोपहर 2.0 बजे से 03.07 तक
गोधूलि बेला : शाम 5 से 06.47 बजे तक
निशिता काल: 12 अगस्त दोपहर 12:25 तक
सूर्य योग: 12 अगस्त 09:32 से 05:30 तक

पूजा मंत्र : माँ पार्वती की पूजा के
उमयै नम:, पार्वत्यै नम:, जद्घ्त्र्यैै नम:, जगत्प्रतिष्ठायै नम:, ॐ शांतिरूप्यै नम:, ॐ शिवै नम:

शिवजी की आराधना के समय
ॐ हरय नम:, ॐ महेश्वराय नम:, शंभवे नम:, ॐ शूलपाणये नम:, ॐ पाकपोषे नम:,
ॐ शिवाय नम:, पशुपतये नम:, ॐ महादेवाय नम:

आगे
कब से शुरू हो रहा है सावन का मौसम, कुछ कैसे करें, जानें सब

सावन पूजा: परदलिंग की इस तरह पूजा, शिव शीघ्र प्रसन्नता, जानें सावन में पूजा के अलग

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button