Lifestyle

Hindu Calendar 2021 Nag Panchami 2021 Date In India 13 August Rahu In Taurus And Ketu In Scorpio Know Kalsarp Dosh Upay

नाग पंचमी 2021 भारत में तिथि: पंचांग के तारीखों में पंचमी का 13 अगस्त 2021, शुक्रवार को श्रावण मास की शुक्लों की पंचमी तिथि को नागवाश होगा। संकल्प के आधार पर नाग पंचमी का पर्व देवता को समर्पित है। इस दिन नाग देव की पूजा की जाती है। सावन का औसत गतिमान है। सावन का मासिक शिव का मासिक धर्म अनुकूल है।

गौ शिव के स्वास्थ्य में नाग देवता रहते हैं। देवता शिव की शिव की शोभांग होते हैं। इसलिए इस व्यक्ति विशेष की पूजा की जाती है। शिव की पूजा करने से देवता प्रसन्न होते हैं। पंचमी पर नाग देवता के साथ नाग शिव की पूजा और रूद्राभिषेक करने वाला यंत्र तय किया गया है।

कालसर्प दोष (कालसर्प दोष)
ज्योतिष . सर्जप कुरैली और केतु से ही जन्म कुंडली में कुंडली है। कालसर्प दोष जब कुंडली में बनता है तो व्यक्ति को बहुत कष्ट सहन करने पड़ते हैं। जिस व्यक्ति के संबंध में आपका छोटा-सा कसर खाता है, उस प्रकार से कालसर्प करने वाला है। कालसर्प दोष व्यक्ति को, धन, जॉब, व्यापार में भी परेशानी होती है। डैंप्टा जीवन और अन्य को भी खराब करता है। इस दोष को ज्योतिष में लागू किया गया है। कालसर्प दोष प्रबल होता है. इसलिए इस दोष का प्रभाव हटा दिया गया है। नांग पंचमी पर शिव की पूजा करने वाला और रुद्र और केतु के मंत्र का जाप करना चाहिए।

नाग पंचमी का शुभ मुहूर्त (नाग पंचमी शुभ मुहूर्त)

नाग पंचमी पर्व: 13 अगस्त 2021
पंचमी तिथि: 12 अगस्त, 2021 को सुबह 03 बजकर 24 से।
पंचमी तिथि तिथि: 13 अगस्त, 2021 को दोपहर 01 बजकर 42 पर.
नाग पंचमी पूजा मुहूर्त: 13 अगस्त 2021 कोत: 05 बजकर 49 से 08 बजकर 28 तक।
मुहूर्त की समय: 02 घण्टे 39.

यह भी आगे:
चंद्रा ग्रहण 2021: चंद्रा पर इन राशियों को धनाढ्ढों का खाता ध्यान दें, जानें राशिफल

सावन २०२१: सावन के द्रष्टव्य में ये समझ में आता है, भोलेनाथ की कृषी कृपाण

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button