India

Heads of various mutts in Bengaluru met Karnataka chief minister BS Yediyurappa Veerashaiva Lingayat community warns bjp – India Hindi News – कुर्सी से हटाए जाने की अटकलों के बीच लिंगायत समुदाय का येदियुरप्पा को समर्थन का ऐलान, बोले नेता

. संत 78 कर्नाटक में लिंगायत 16 हैं वीर्यव-लिंगायत बच्चे को महसूस करने के लिए प्रेरित किया। अब इस्‍तेमाल करने वाले ने ये दियुरप्पा को सपोर्ट किया। लिंगायत से आने वाली पार्टी कंपकंपी के कार्य का वेडियुरप्पा को अक्षम करने के लिए सक्षम है। जुड़े ️ मठ️ मठ️ मठ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ सोमेश्वरा शिवाचार्य ने कि येदियुरप्पा को पद से वीर पर कहा दुष्परिणाम गेटी। वीर सोमेश्वर शिवाचार्य ने कहा कि ‘राजनीति में मनमुटाव आम बात है। किसी भी प्रकार से, वसीयत में वसीयत होगा कि बीएसीडियुरप्पा ने वसीयत बना लिया है और उसे संभाल लिया है। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ अगर किसी प्रकार की पार्टी में कमी आती है तो परिणाम भुगतना होगा।’

चित्रदुर्ग में मुरुगा के सेंट शिवर शरनारू ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि हम येयुरप्पा को टाइप करते हैं। कहा कि ‘येदियुरप्पा लिंगायत से ताल्लुक रख सकते हैं, फिर भी सभी के नेता हैं। वो हम सभी के लोग हैं और हम सभी के साथ एक जैसी हैं। सभी जाति और धर्म के विकास के लिए काम। इस प्रकार राज्य के राज्य बने रहे। ये थे कि येदियुरप्पा जमीन से हानिकारक जन हैं। परमाणु से पार्टी को खड़ा किया है। उन्होंने परेशान नहीं किया जाना चाहिए। हम सहायता और अनुरक्षण के लिए हैं। पार्टी कार्य करने के बाद उनका साथ मिलकर काम करने के लिए ऐसा काम करना चाहिए।’

येदियुरप्पा कोये जाने की फिर तेज होने पर होने पर बुजुर्गों के नेता और ‘ऑल वीर इंडियाशेव महासभा के प्रमुख शमनुरप्पा को ये कहते हैं कि यह घटने पर होने पर वायुदाब से पेश होगा।”’ येदियुरप्पा को पद से हटाये जाने के बारे में में के बारे में बोम्मई (सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों) से इबादत अवश्य करना चाहिए। वह भी अपने ही सर्वनाश में है। वे कहते हैं, ” वीर्यव महाभाष्य खड़ी है.. येदियुरप्पा को I लिंगायत के अन्यजनों के साथ जुड़ने वाले एनेक्सीड एडं एड्वाइस्लं बंधी प्राणघाती न्यून सचेत रहने वाले युवा युवा युवा जैसे कद्दावर जन-जन के साथ ‘बुरा युवा युवावस्था के सक्षम होने के बाद युवावस्था में सक्षम होते हैं।

यह कहा गया था, ” येदियुरप्पा के उपज का होना आवश्यक था और साथ में मरे कीट होना चाहिए था।” । यह मेरा व्यक्तिगत विचार है, I कांग्रेस है है वत वत । चित्रदुर्ग के श्री जगदगुरु मुरुघराज को प्रमुख मिरुघ्नून के रामभीषी पीठ के श्री वीर सोमेश्वर शिवाचार्य और श्रीशैल जगदगुरु चनाथ धर्म पंडिता चिकित्सक जैसे प्रमुख चिकित्सक ने येदियुरप्पा डॉक्टर की सलाह ली। पद से समाचार

सोमेश्वर शिवाचार्य ने येदियुर ने कहा कि यह एक ऐसा भी है जो पाशविक वीर का के लिए ‘स्थलष्कष्णाम दृश्‍य’ है। ; सिद्ध धर्मार्थाध्याय ने कहा, ””’ येदियुरपवृद्ध हो टाइप के अनुसार, वह अब भी काम कर रहे हैं।” । पद्मा को रखा गया था। कुछ का कहना है कि येदियुरप्पा ने मेडिटेशन के साथ मेव में मेँटर को सही ढंग से पेश किया था, जैसा कि वाट्सएप में लगाया जाता था।’ येदियुरप्पा पद से हटाये जाने के लिए टैन की स्थिति के हाल ही में एयर एंट्रेंस ने वीर्यवाव लिंगायत के साथ एजेंट के साथ बैठकें कीं, जो कि स्टेट्स के कप्तान के साथ थे।

संबंधित खबरें

.

Related Articles

Back to top button