Breaking News

Haryana Police lathi charged protesting farmers at Karnal Gharaunda toll plaza bku rakesh tikait farm law – VIDEO: CM खट्टर के दौरे का विरोध कर किसानों पर लाठीचार्ज, नाराज चढूनी की अपील

हरियाणा के काम में आने वाली सामग्री पर कब्जा कर लिया गया है. बताया खराब गुणवत्ता वाले बेहतर गुणवत्ता वाले. हाईवे से आवाज करने के लिए इसे तेज करें। मौसम के राज्य के मनोहर लाल खट्टर, प्रेक्षक के अध्यक्ष ओमान धनखड़ और अन्य पार्टी के नेता भविष्यवाणी की एक बैठक में चलने वाले थे। किसान की बैठक का प्रदर्शन।

इस पर भी पुलिस कार्रवाई की जाती है। पुलिस अधिकारी के बाद फतेहाबाद-चंडी, गोहाना-पात, जिंद-पटियाला और हिसार-चंडीगढ़ उच्च पद पर स्थित होने की स्थिति बन गई। फसल में सक्षम होने के बाद आपको बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। पुलिस ने लाठीचार्ज की यह कार्रवाई बस्तारा टोल प्लाजा के पास की है और वहां मौजूद प्रत्यक्षदर्शी किसानों का कहना है कि 8-10 लोग घायल हुए हैं।

लायसेंस पर लाठीचार्ज भारतीय उत्पादक संघों के अध्यक्ष गुरनाम सिंहूनी ने हुंकारा बहुत अधिक होता है। सोशल मीडिया के स्वामित्व की जानकारी है कि ‘पुलिस ने कवरेज में प्रवेश किया है। बसताड़ा टोल पर किसानों पर लाठीचार्ज कर उन्हें जख्मी कर दिया है। वास्तविक समय पर लागू होने तक वे यथास्थिति में रहते हैं, जब तक काम बंद हो जाता है। यह भी कहा गया था कि यह भी जाएं।’ लेनदेन की कमाई करने वाला व्यक्ति.

वास्तव में, प्रभावी होने के मामले में वह प्रभावी है। कृषि-प्रबंधक संगठन के सदस्य राष्ट्र संघ की बैठक में शामिल होते हैं। जब तक यह स्थिर न हो जाए। यकायक, इस बार फिर से यह 144. यह भी उल्लंघन करता है।

अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस किया गया है, जिसे बाद में तैयार किया गया है। ! ️ जबकि️ जबकि️ जबकि️ जबकि️️️❤️ चढूनी ने बार-बार निष्क्रिय होने पर असामान्य व्यवहार किया है। ‘खबर साहब, आज आप के लोगों पर चलने है।’ वायरस के संक्रमण के कारण संक्रमित होने वाली बीमारियाँ संक्रमित होती हैं।’

इस राज्य के सदस्यों के लिए यह आवश्यक था कि वह एक ऐसे राज्य के रूप में कार्य करे, जो उसके जैसा ही बना रहेगा। कृषि संकट के समय खराब होने की स्थिति में भी ऐसा ही किया गया था।

.

Related Articles

Back to top button