India

Hallmarking Of Gold Know How To Test Original Gold Jewellery At Home Details Here

सोने की हॉलमार्किंग: आज से हॉलमार्किंग को बुकमार्क किया गया है। ऐसे में अगर आप सोना ख़रीदना चाहते हैं तो आज से हॉलमार्क का ही सोना. हॉलिटे लाइफ़ ने यह लिखा है कि यह सोने की जगह है। युग्मज में यह भी दर्ज किया गया है कि ज्वेलरी में प्रतिशत सोना है। आज हम आपको कैसे अपडेट करते हैं।

हॉलमार्किंग क्या है?

सबसे पहले मन में सवाल उठेंगे कि ये गोल हॉल मार्करिंग क्या है? हम करेंगें। सरकार की ओर से जारी एक आदेश के अनुसार सभी कामों को दोबारा चालू करना होगा। ये मानक 14 कैरेट, 18 कैरेट और 22 कैरेट शुद्धि के साथ।

कैसे करें सोनी की आईडी?

हर कैरेट के अपडेट के लिए हॉलमार्क नंबर अंक अंक बदलते हैं। ज्वेलर्स की ओर से 22 कैरेट के लिए 916 नंबर का उपयोग किया गया है टॉय 18 कैरेट के लिए 750 नंबर का उपयोग किया जाता है।

ज्वेलरी में सोने का प्रतिशत पता

हॉलमार्क में चिह्न से पता लगाया गया है कि ज्वेलरी में प्रतिशत सोना लगाया गया है। अगर ज्वेलरी पर 375 अंक अंकित है तो वह 37.5% शुद्ध सोना है। ट्वाइ अगर 585 नंबर पर रहा है तो 58.5 प्रतिशत शुद्ध गोल्ड है।

अगर किसी गल्री पर 750 लिखा हुआ हो तो ऐसा करने के लिए जो्री में 75 प्रतिशत इस्तेमाल किया गया हो। ट्वेल 916 लिखा होने पर ज्वेलरी में 91.6 प्रतिशत सोना है। वेल्री के अन्य प्रकार के मेटाल्टिक का उपयोग किया जाता है।

सरकार खिलाफ

.

Related Articles

Back to top button