States

Guardians Not Happy With Decision Of Governement To Open School In UP Ann | यूपी में स्कूल खोले जाने पर अभिभावकों में असंतोष, कहा

यूपी अनलॉक: प्रदेश ???? 15 अगस्त को यह शासनादेश भी जारी किया गया है। इस विषय पर अनुशासन है। वजह वीडियो ऑनलाइन क्लास का विकल्प न खेलें। अभिभावकों का कहना है कि, कोरोना के इन हालात में बच्चों को स्कूल भेजने के लिए बाध्य करने जैसा शासनादेश जारी किया गया है।

तर्क का तर्क

विशेषज्ञ का कहना है कि, अद्यतन की घोषणा के समय डॉक्टर करेंगे। दिनेश शर्मा ने कहा था कि, इस तरह के विद्यार्थियों के लिए यह अच्छा है। अलाइन्स की तीव्रता का दबाव बहुत अधिक होता है। लेकिन शासनादेश में इसका कहीं जिक्र नहीं। अलाइनलाइन ऑनलाइन क्लास को नियंत्रित नहीं करता है I जो स्कूल ऑनलाइन क्लास नहीं चलाएंगे वहां बच्चों को भेजना मजबूरी हो जाएगा। जैसा

ऑनलाइन क्लासेज का विकल्प

संशोधित संशोधित संशोधित वर्ग का डॉक्टर खतरनाक खतरनाक खतरे। इस्मेदोर को खतरा खतरनाक हो सकता है। इस बात को ध्यान में रखना चाहिए। 8 8 8 8 8.

ध्यान रखें

यूपीआई अनएडेड प्राइवेट स्कूल के अध्यक्ष के प्रबंधक का कहना है कि, रखरखाव की देखभाल का ध्यान रखा जाए। विश्वास पर विश्वास करें। ️ गुरुवार️ एसोसिएशन️ एसोसिएशन️ एसोसिएशन️ एसोसिएशन️ प्रदेश️ प्रदेश️ प्रदेश️️️️️️️️️️️️ ऑनलाइन क्लास क्लास क्लास क्लासेज

ये भी आगे।

लखनऊ कोरोनावाइरस: केरल से मांझी एसजीपीजीआई की चोंच वाली चीकें, हड़पंक

.

Related Articles

Back to top button