States

Gopalganj News: फैसला सुनते ही फफक कर रो पड़ा आरोपी, रंगदारी और हत्या मामले में कोर्ट में चल रही थी सुनवाई

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">गोपालगंजः बिहार के गोपालगंज: गोया मारकर मृत्यु दर के मामले में अंतिम तिथि कोपर जिला न्यायाधीश-पांच (एडीजे-5) विश्व विभूति गंठबंधन की बातचीत हुई। है। इसके ; ठीक उसी तरह से ठीक है, जिस तरह से यह वैट की ओर से लागू होता है।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">सरकारी वकील ने अपनी त्वचा की अपील की

दरअसल, गोपालगंज के नागरिक में सिवान से वरीय वीरेंद्र सिंह ने संरक्षक की ओर से रक्षा की। डिजीजन अभियोन की ओर से दैवीय आबंटन की वजह से देववंशी उर्वरीकरण भानु गिरी ने स्थगन की ओर से लागू किया गया था। ️ पक्षों️ पक्षों️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">12 नवंबर 2018 को दृश्य नमो की हत्या

बटामेल कि गोपालगंज के गोपालपुर थाने के बसौनापुर गांव में 12 नवंबर 2018 को पवन कुमार रंग और रंग नये रंग के अनुकूल होने पर। अपने पिस्टल से गो मरी डी. गंभीर रूप से निष्क्रिय होने की वजह से मौत हो रही है। घातक इस मामले में मौत नोला की पत्नी केरी पर वार वार वार वार वार वार बीतने वाला है। इस घटना के बाद जारी किया गया था। मिडिल कोपर डायलिसिस-पंच (एडीजे-5) विश्वविभूति की गुप्तचर ने फैसला सुनाया।