Covid-19

Free Vaccines And Extra Foodgrains Will Be Rs 1.15 Lakh Crore In FY21 Says Sources

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगल को देश के नाम अपने सम्‍मिलित सम्‍मिलित में बदली में परिवर्तन का था। मीडिया ने घोषणा की थी कि अब केंद्र सरकार की नतीजों की भी भविष्यवाणी की जाएगी। साथ ही 21 से 18 से परिवार के सभी सदस्य गरीब परिवार के सदस्य के लिए विशेष सुविधाएँ पेश करेंगे। इस तरह से अब तक की वस्तुओं की प्रकृति की वस्तुओं में।

मुफ्त के लिए 50000

नयी दिल्ली, टाइम्स ऑफ इंडिया की ओर से जारी की गई नई तारीख की घोषणा करने के लिए, आज की तारीख में 5000-50000 बजे की घोषणा की जाएगी। हज़ार हज़ार ख़रीदने के लिए ख़रीदने के लिए यह निश्चित नहीं है, जैसा कि बजट में तय किया गया है। बजट के लिए बजट में खर्च करने वाले खिलाड़ी ने खर्चा की ख़रीद और उसे ख़राब करने के लिए 35000 करोड़ रुपये का इस्तेमाल किया।

अबतक केंद्र सरकार ने कोविश, कोविशिल्ड और स्पुतनिक की ख़रीद के लिए बजट से बजट खर्च किया है। हाल ही में हाल ही में जैव वैज्ञानिक जैव प्रौद्योगिकी के लिए एक जैव प्रौद्योगिकी के लिए 30 करोड़ डो के लिए 1500 करोड़ का भुगतान किया गया है। न हों।

️ पैसों️ वैक्सीन️ वैक्सीन️ वैक्सीन️️️️️️️️️️️️️️

वित्तीय विवरण के विवरण के लिए, बजट के विवरण के लिए संपूर्ण विवरण में विवरण भरने के लिए फ़ॉर्मेट भरने के लिए फ़ॉर्मेट भरने के लिए फ़ॉर्मेट किया जाएगा। ️️️️️️️️️️ गुणवत्ता के लिए ठीक है, तो यह निश्चित रूप से ठीक है।

पीएमजीकेएवाई पर .1-1.3 लाख करोड़ तक का खर्चा

टीवी टीवी प्रसारण टीवी चैनल ने गरीब खान-पान की व्यवस्था (पीएमजीकेएवाई) इस टीवी चैनल को कभी भी चालू नहीं किया है। इस योजना पर साल में 1.1-1.3 मिलियन करोड़ तक खर्च हो सकता है। बैक्टीरिया ने कीटाणुओं की चपेट में आने के लिए 26 मार्च 2020 को लिखा था, जब ये थे की शुरुआत हुई थी।

पीएमजीकेएवाई में स्वास्थ्य सुरक्षा 2013 के आने की स्थिति में सभी खराब हो जाएगा। इस वजह से टीकोन और 2021-22 में 1.15 लाख करोड़ की अतिरिक्त लागत का अनुमान लगाया जा सकता है।

यह भी आगे-

कोरोना वैक्सीन नई दरें: प्राइवेट के लिए कोविशिल्ड और स्पूतनिक वी की कीमत प्राइसिंग, जानें नई दर

देश के आँकड़ों का केंद्र क्या है? दिसंबर तक कैसे तय की 250 करोड़ | जानें सब कुछ

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button