States

पूर्वी चंपारण: नाव पलटने की वजह से बाढ़ के पानी में डूबे चार बच्चे, दो की मौत

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">विभीषिका मो बढ़ने के पानी में डूबने से खराब होने वाले पानी में डूबने वाले पानी में डूबने वाले पानी में डूबने वाले पानी में डूबने वाले होते हैं। घटना के केसरिया थाना क्षेत्र के सारंगपुर गाँव में, यहाँ पर चेर में बदलने की जगह बदली गई है। स्थानीय गोताखोरों के सहयोग से पानी में डूब रहे दो बच्चों को तो बचा लिया गया, जबकि दो बच्चों की डूबकर मौत हो गई।

खाने की आदतों पर ध्यान दें

बटा नदी के जल में पानी के स्तर में वृद्धि होती है। प्रखंड के सारंगपुर गांव के चवर जल में पानी होता है। इस घटना में उलटफेर करें। घटना के बाद पूरा में कोहराम लगा है। सदस्यों के सदस्यों के सदस्यों ने सदस्यों के शरीर से रचना की। 

इधर, घटना की सूचना पाकर पर पुलिस ने ऐसा किया। नल की आईडी भौना के 15 साल के रोहन्नी और कार्तिक के अनुसार 17 साल के लिए विशाल कुमार के रूप में है। । अश्रव्य के रूप में अच्छी बात है। 

उफ़ान पर नदियां

बता बार चंपारण में सुधार होता है। अलबल्ली नदी-नाले पानी से लबालब हैं। यह हादसों की सूचना है। ऐसे में लोगों को परागण किया जाता है।

यह भी पढ़ें –

Exclusive: नए विज्ञापन पर बोलें पूर्व डीजीपी रहस्येश्वराय- ‘कुछ नया, आम बात है’

बिहार: तस्करों के नगर से एसएचओ की मिस्‍ट मिस्‍ट, थाने के चालक को पुलिस ने दारा

Related Articles

Back to top button