States

Flood Disrupted Life In These Four Districts Of Bihar, The Administration Rescued 8500 People Ann

पाटन: ️ मॉ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ बिहार सरकार के प्रशासन विभाग की ओर से शक्तिशाली गंगा नदी के पानी में नेपाल में अवस्थित गंडक नदी के पानी के क्षेत्र और बिहार के वाल्मीकिनगर गंडक नदी का जल नदी का जलस्त्राव 16 नवंबर को 02.00 बजे सुबह 4, 12,000 पंक्तिसेक दर्ज किया गया।

चार मौसम में बाढ़ की स्थिति

हालांकि, बाद में गंडक नदी के जलवा में बंद होना। नदी के जल के प्रवाह में परिवर्तन के रूप में परिवर्तन के रूप में परिवर्तन के रूप में परिवर्तन के रूप में परिवर्तन हुआ, चम्पारण, गोपालन के आकार में परिवर्तन के रूप में परिवर्तन के रूप में परिवर्तित हो गया। इन 04 जल के कुल 15 प्रखंडों के प्रभाव से प्रभावित थे।

इन प्रखंडों में पश्चिम चम्पारण जिले के 02 प्रखंड, जन्मा जन्महा -2 और पिपरासी, मूल चम्पारण जिले के 04 प्रखंड, जन्म जन्म राज, संग्रामपुर, कस्रिया और सुगौली, गोपालगंज जिले के 06 प्रखंड, जन्मस्थल गण, प्रुण्ण्ठपुर, बरौली, चायकोट, मां और सिंघवलिया, सारण जिले के 03 प्रखंड, जन्माष्टा पूर, तरैया और मेकर शामिल हैं।

8500 लोगों को रेक्यू किया गया

स्वास्थ्य की रक्षा करने के लिए समस्या से बेहतर होगा। 8500 को स्वास्थ्य संकट से निपटने के लिए सुरक्षित है। आराम की स्थिति और आराम करने के लिए लॉग इन करें। वाटर से चलने वाले प्रभाव की स्थिति में सुधार होता है। हालांकि स्थिति पर हमला।

राज्य की स्थिति भारत मौसम विज्ञान विभाग की ओर से लॉन्च होने पर ‘हमारी टीम’ कीट पतंग पर हमला करने के लिए तैयार हो जाएगा।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,भारत, और भारत,,,,,,,,,,,,, और, )। पर्यावरण, वज्र से संक्रमित होने पर विशेष रूप से प्राप्त होने वाले व्यक्ति को संक्रमित होने की आवश्यकता होती है और वह उसे प्रभावित करता है।” I’s ‘ त्य I I

यह भी आगे –

हाजीपुरः मिर के नेता ने बेटी की गलत सोच, ससुराल ही बहू ने देखा रिक्शे का मुंह

बिहारः सीएम ने फिर से तंज के लिए पेश किया था- 16 साल के लिए इस तरह के लोग भी इलाज के लिए तैयार हैं।..

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Refresh