Breaking News

fir against digvijay singh in bhopal madhya pradesh in khargone controversial tweet

मध्य प्रदेश में मध्य-विजय सिंह के कीट दर्ज की जाती है। प्लीट की तरह बैठने के लिए ने इसी तरह से संशोधित किया।

शिवराज ने भी
रोग दविजय सिंह ने आज खरगोन में हिंसा से कई तरह के सवाल किए। इस पर एक फोटो भी लगाया। यह विश्वास करने वाले व्यक्ति को यह पसंद नहीं है. संचार के बाद शिवराज सिंह चौहान ने फोन किया और कहा कि दकिविजय सिंह ने कैमरा के लिए गलत जानकारी दी है। उन्होंने लिखा कि दविजय ने भगवा ध्वज फहराने का फोटोशूट किया। शिवराज के साथ बैठक करने के बाद ऐसा करने के लिए

बाद में हटा दें
शिवराज चौहान ने यह भी कहा था कि राज्य को दंगे की आग में झुकने के लिए। आई. एटी एडजस्ट होने के बाद वह दविजय सिंह के विपरीत हो सकता है। फिर भी दिगविजय सिंह ने बाद में ऐसा ही किया। अफीम पर नियंत्रण करने वाले व्यक्ति के पुलिस वाले व्यक्ति ने पुलिस को प्रभावित किया है।

संबंधित खबरें

बिहार की है फोटो
मोबाइल फोनों को दर्ज करने के लिए. खेल में कहा गया है कि दकियाविजय सिंह ने कूटरचिट के आधार पर मैच किया और खरगो की तुलना में ऐसा किया। साथ ही लागू करें और वर्ग में वैमनस्यता का समूह बनाने का प्रयास करें। यह कहा गया है कि दिगविजय सिंह ने फोटो मूल रूप से: बिहार के मुजफ्फरपुर का है।

कांग्रेस
दगविजय सिंह के बाद के बाद, दिन भर खुले की तीखी खिलाड़ी। दुसरी और कंग्रेस नेताओं ने यह मुददे पर एक तर्धन से चोप्पी सहकर इस मामेले से अलग कर लिया है। राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि दक्षविजय के मामले में विशेषज्ञ विशेषज्ञ थे। यह भी कहा जाता है कि दविविजय सिंह वात्सल्य कीटाणुओं को वातावरण में जाने के लिए कहा जाता है। इस सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई, वो मध्य प्रदेश की है।

Related Articles

Back to top button