Breaking News

FIFA World Cup 2022 Quarter finals Morroco beat Portugal 1 0 to reach semi final of the world cup

मोरक्को ने यूसुफ एन नेसरी के रूप में गोल की स्थिति में शनिवार को फीफा विश्व कप 2022 के क्वार्टरफाइनल में पुर्तगाल को 1-0 से हराकर सेमीफाइनल में कदम रखा। अल सुमामा स्टेडियम पर जाकर रोमांचक स्थिति में नेसरी ने 42वें मिनट में गोल किया और मोरक्को विश्व कप में सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली अफ्रीकी टीम बन गई। टीम ने अपने अभियान के दौरान अब तक केवल एक गोल गंवाया है और वह कनाडा के खिलाफ आत्मघाती गोल भी है। पुर्तगाल के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में भी टीम का बचाव एक अगुआई गोलकीपर यासिन बोनाउ ने किया।

पहले हाफ में एक गोल से पिछड़ने के बाद पुर्तगाल ने दूसरे हाफ में कई जगह जगह बनाई, लेकिन मोरक्को के गोलकीपर यासीन बोनो ने गेंद को नेट तक नहीं पहुंचाया। मोरक्को की टीम को दूसरे हाफ के इंजरी टाइम का फाइनल लगभग छह मिनट में 10 खिलाड़ियों के साथ खेलना पड़ा लेकिन दुनिया की नौवें नंबर की पुर्तगाल की टीम को फायदा नहीं हुआ।

अफ्रीकी पहली टीम बनी मोरक्को

वर्ल्ड की 22वीं नंबर की टीम मोरक्को के लिए अल थुमामा स्टेडियम में यूसुफ एन नेसरी ने विजयी गोल 42वें मिनट में दागा। मोरक्को विश्व कप नॉकआउट में यह पहला गोल था। मोरक्को कतर यूरोप में अंतिम आठवीं या दक्षिण अमेरिका की एकमात्र एकमात्र टीम थी।

मोरक्को फुटबॉल के महासमर सेमीफाइनल में जगह बनाने वाला पहला अफ्रीकी देश है। इससे पहले कैमरून ने 1990 में, सेनेगल ने 2002 में और घाना ने 2010 में अंतिम आठ में जगह बनाई थी, लेकिन तीनों में से कोई भी टीम सेमीफाइनल तक नहीं पहुंच पाई थी। सेमीफाइनल में अब मोरक्को की जीत 15 दिसंबर को पूर्व चैंपियन इंग्लैंड और गत चैंपियन फ्रांस के बीच होने वाले क्वार्टर फाइनल में न्यूजीलैंड के विजेता होंगे।

फीफा विश्व कप 2022: लियोनेल मेसी के दम पर 8 साल बाद सेमीफाइनल में अर्जेंटीना, नीदरलैंड्स को

रोनाल्डो का टूटा सपना

इस हार के साथ क्रिस्टियानो रोनाल्डो का विश्व कप जीतने का सपना भी टूट गया है। पुर्तगाल की इस हार के बाद यह लगभग तय हो गया है कि पांच विश्व कप में गोल दागने वाले दुनिया के एकमात्र खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो अब विश्व कप ट्रॉफी कभी नहीं उठाएंगे। यह 37 वर्षीय खिलाड़ी धोखाधड़ी: अपना अंतिम विश्व कप खेल रहा है।

पुर्तगाल के कोच फर्नांडो सांतोस ने एक बार फिर पांच बार के ‘साल के विश्व के सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर’ रोनाल्डो की जगह 21 साल के गोंसालो रामोस को शुरुआती एकादश में शामिल किया, जिन्होंने स्विटजरलैंड के प्री क्वार्टर फाइनल में हैट्रिक ब्रांडिंग की थी लेकिन उन्हें ही हाथ में निराशा मिली लगी।

पुर्तगाल की टीम ने जापान में शुरुआत की और दबदबा बनाने का प्रयास किया। टीम को चौथे मिनट में फ्री किक के रूप में फायदा हुआ, लेकिन जोआओ फेलिक्स अपने हैडर से मोरक्को के गोलकीपर यासिन बोनाउ को छकाने में नाकाम रहे। पुर्तगाल ने 13वें मिनट में बाएं छोर से एक और चाल चली।

रूबेन नेवेस ने राफेल गुइरेइरो की एक ओर गेंद फेंकी, लेकिन अपने तेज शॉट को रामोस अपने नियंत्रण में करने में नाकाम रहे। मोरक्को ने भी इस बीच कुछ हटकर किया लेकिन टीम को गोल करने में सफलता नहीं मिली। फेलिक्स के कदमों से अजयान ओनाही परेशान हुए लेकिन पुर्तगाल का कोना हासिल करने से रोक नहीं पाए। ब्रूनो फर्नांडिस ने कॉर्नर लिया लेकिन मोरक्को के डिफेंस ने इस हमले को विफल कर दिया।

मोरक्को ने इसके बाद मैच का रूख बदला और पलटवार करते हुए 42वें मिनट में बाएं अंत से शानदार चाल बनाई। जोसेफ एन नेसरी ने गोलमुख के सामने आई गेंद को गोल कर दिया और दावा करते हुए गोल में संदेश दिया। पुर्तगाल के गोलकी पर दियोगो कोस्टा ने यूसुफ एन नेसरी को रोकने का प्रयास किया लेकिन मोरक्को के खिलाड़ी अधिक स्पष्ट हो गए।

दूसरे हाफ की शुरुआत के विपरीत। इस बार मोरक्को की टीम अधिक आक्रामक थी। मैच के 48वें मिनट में अचरफ हकीमी पुर्तगाल के कप्तान पेपे के फाउल के लिए मोरक्को को फ्रीकिक मिले। हकीम जिएश की फ्रीक पर जोसेफ एन नेसरी गोलकीपर कोस्टा की गलती के बावजूद गोल नहीं लगा।

51वें मिनट में रोनाल्डो को मौका मिला

पुर्तगाल ने 51वें मिनट में रोनाल्डो को मैदान पर उतारा और अगले ही मिनटों में उन्होंने बाएं छोर से मूव बनाया लेकिन उनके कमजोर शॉट को गोलकीपर बोनाउ ने आसानी से रोक दिया। तीन मिनट बाद पुर्तगाल का एक और बोनाउ का प्रयास आसानी से विफल हो गया। रामोस के पास 58वें मिनट में हैदर से गोल दागने का मौका था लेकिन उनका शॉट गोलकीपर के बाईं ओर से बाहर निकल गया।

बोनाउ बनी दीवार
पुर्तगाल की टीम 64वें मिनट में एक बार फिर गोल करने के काफी करीब पहुंच गई। ब्रूनो ने गोलमुख के सामने डंडनाटा को गोली मारी लेकिन क्रॉसबार के ठीक ऊपर निकलकर बाहर निकल गया। बोनाउ ने पुर्तगाल को एक बार फिर से समान रूप से विनियोग से हटा दिया जब फेलिक्स के दाईं ओर के चिह्नों को शॉट को हवा में गोटा ने अपने राइट लेफ्ट से मार कर बाहर कर दिया। फेलिक्स को राइट से मूव पर अपने ही पास पर गेंद वापस मिली थी।

मैच के फाइनल लम्हों में बोनाउ ही छाए रहे। विश्व कप जीतने की उम्मीद को कायम रखने के लिए रोनाल्डो ने इंजरी टाइम के पहले मिनट में राइट से मूव बनाए और गेंद लेकर आगे बढ़े लेकिन राइट पैर से माने अपने तेजतर्रार शॉट के सामने बोनाउ वाल की तरह डटे।

वालिदा चेदिरा को अंतिम लम्हों में फेलिक्स पर फाउल के लिए मैच में दूसरी बार येलो कार्ड दिखाया गया जो लाल कार्ड में बदल गया। अंतिम छह मिनट में टीम को 10 खिलाड़ियों के साथ खेलना पड़ा। चेदिरा ने इससे पहले पेपे में भी फाउल किया था।

जकारिया अबोतलाल को मोरक्को की फोर्जिंग करने का सबसे आसान मौका मिला। वह पुर्तगाल के आधे मील लंबे रास्ते को अकेले आगे लेकर गोलमुख के नजदीक पहुंचा। उन्हें अब बस कोस्टा कोछकाना था लेकिन उन्होंने उनके हाथ में सीधे बैठे हुए ही गोली मार दी।
पेपे को हैदर से गोल टैग करने से पहले इंजरी खत्म होने से ठीक हो जाता है।

(एजेंसी)

Related Articles

Back to top button