States

Father Dies After His Two Sons Passed Away Due To Corona On The Same Day In Greater Noida ANN

ग्रेटर गौतमबुद्ध नगर के ग्रेट चिंतक ने कहा कि एक ब्रेका परिवार है। जललपुर गांव में 9 मई को पांच बजे अंदर ही अंदर टूटा था। दो जवान बेटों की मौत के बाद पिता को ऐसा सदमा लगा कि वो उससे उबर नहीं सके। दुनिया को भी बुरी तरह टूटा। गांव में लगार लगाने के बाद समस्याएँ हल हो जाती हैं। परिवार में एक बार ऐसा हुआ था। सक्रिय का कहना है कि अतर सिंह के परिवार में एक जीवित बचे और अब मस्तिष्क के परिवार की जिम्मेदारी है।

बैक्टीरिया के कीटाणुओं वाले कमरे में ये कीटाणु होते हैं जो कीटाणुओं के कमरे में होते हैं। बता दें कि बीती 9 मई को दो सगे भाई पंकज और दीपक की एक ही दिन में 5 घंटे के अंतराल में मौत हो गई थी। अतर सिंह एक की चिता को आग में रखा गया था। अपडेट में अपडेट करने के लिए अपडेट करें इस अपडेट को अपडेट करें। भविष्यवाणी को अंजाम अतर सिंह की भी मृत्यु हो जाती है। माया जा रहा है कि वो भी सकारात्मक था।

28 अप्रैल से हत्या की शिलशिला . शुरू हुई
गांव के लोगों का कहना है कि 28 अप्रैल से गांव में मृत्यु का तांडव शुरू हुआ था. दुलकी मृत्यु के बाद, अंत में पहली बार पोस्ट किए गए थे। रात घटने के बाद रात में घटी होने की घटना घटेगी। कोरोना चेचक के इलाके के लोग दशत का है.

ये भी आगे:

फिरोजपाबाद: अप के लिए स्वस्थ व्यक्ति की सुविधा के लिए, श्मशान घाट पर जाने परिजन

कोरोना की लहरों को रोकने के लिए योगी सरकार ने

.

Related Articles

Back to top button