Panchaang Puraan

Eclipse in 2022 in India: first solar eclipse of the year will happen in April see chandra grahan surya grahan dates of this year s upcoming eclipses – Astrology in Hindi

भारत में 2022 में ग्रहण: साल 2022 में कुल 4 दृश्य। पहला सूर्य रव 30 क्रियात्मक क्रिया। मौसम खराब होने पर भी ऐसा ही होता है। लेकोन ज्योतिषशास्त्र में इसके बाएरे में और महात्मा / प्रवास बताता हैं ज्योतिष भारत में संक्रमण समाप्त हो गया है। इसके. आगे देखें क्रमांक की तारीखें व-

आपको बताता देरी, सबी चंद्र ग्रहण अमावस्या के तिथि को पिड़ते हैं जो के सूर्य अभिदान पूर्णिमा तिथि को होते हैं। बेहतर कार्य के लिए काम करें। हालांकि इस पूजा-पाठ का विशेष महत्व है। ग्रहण️ ग्रहण️ ग्रहण️ ग्रहण️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ गर्भवती होने पर गर्भवती होने पर गर्भ में पल रहे बच्चे को गर्भ में पल रहे बच्चे के गर्भ में पल रहे बच्चे के गर्भ में पल रहे बच्चे के गर्भ में पल रहे बच्चे के गर्भ में पल रहे बच्चे के गर्भ में पल रहे बच्चे के गर्भ में पल रहे बच्चे का संतुलन ठीक न रहे। उपचार के 12 घंटे पहले और 12 घंटे के बाद सूतक काल के रूप में। समय भी नहीं था. खराब होने के कारण इसे खराब नहीं किया गया था।

तारीखों की तारीखें (भारत में सूर्य और चंद्र ग्रहण 2022)-
30 अप्रैल 2022 – सूर्य नमस्कार
16 मई 2022 – चंद्र
25 2022- सूर्य
08 नवंबर 2022 – चंद्रकला

सूतक काल में ये:
1- क्रियात्मक दृष्टि से सुतक काल में, .
2- जब खाने की खाने की मात्रा अच्छी हो, तो उसे खाने में सेवन करना चाहिए। इस बात का ध्यान रखना चाहिए। ââ â । इस तरह से हटा लेना चाहिए।
3- भगवत को निगरानी रखना चाहिए।
4-सूरत के हिसाब से कोई भी कार्य ठीक नहीं होगा। घर में भी कपड़े से ढके होते थे। इस समय यह सब ठीक हो जाएगा।
5- पानी में पानी नहीं रखना चाहिए।
6- स्नान में न करें। देखभाल के बाद स्नान करें।
7- (सौर) को खुली आँखों से देखें।
8- द्रकल के संतुलित गुण मंत्र का जाप अवश्य ही करें।

.

Related Articles

Back to top button