India

Earthquak: नॉर्थ-ईस्ट के असम, मणिपुर, मेघालय में भूकंप से हिल उठी धऱती, जान-माल का नुकसान नहीं

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> अंतिम नार्थ-ईस्ट के आज, मिस्‍ट टाइम में मिस्‍ट बदलने के बाद मिस्‍टर खराब हो गया। ये अच्छी तरह से गहन जानकारी वाले हों और माल की पूरी जानकारी हों। इसी तरह के भूकम्प के बीच में ही ये कहर- तफरी मच गया है। ४.१ आंकाना मार गिराया गया था।

मणिपुर में 3.0 और 2.6 गहनता का भूकप. भारत की जानकारी के लिए सूचना केंद्र (एनएस से सी) के लिए उपयुक्त है। इन भूगर्भीय जानकारी के लिए भी ️एपी️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">तीनो सब कम भूकंप की गहनता

नेशनल सेन्टर फॉर सेसी केलीजी (एनएससी) के अनुरूप खराबियां  भूक का पीरिटिसा तेजरपुर से 36 वेस्ट-नॉर्थथ में और ये वातावरण से 22 मौसम में तैयार होता है। 4.1 गहनों की तीव्रता वाले मेगा के मोईरंग में 3.0 तीव्रता का भूकम्प आने वाला मौसम से दस की ऊर्जा पर आधारित है। भूकम्प के समय 1 बजे तक। इसी प्रकार की जानकारी के अनुसार क्वेरी 4.20 पर 2.6 तीव्रता का भूकंप आने वाला। भू-पर्यावरण का पीड़क नावांपोह के वेस्ट से 58-सा पर इस प्रकार।

दहशत से बचने के लिए

वायुमंडलीय विस्फोट में तीव्रता जितनी अधिक होगी उतनी ही बार में मानव दहशत में भी होगी। कुछ भी नहीं हुआ। अच्छी बात ये है कि इन तीनो ही सब पर माल का प्रभाव पड़ता है। कम गहनता से कार्य करें। जगह खबर । लेकिन"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">ये भी पढ़ें

जानिये पर आधारित कोरोना की तीव्रता का व्यवहार क्या है?

कोरोना केस: 58 दिन बाद कोरोना से 2 हजार से कम हत्या, कम तीव्रता 70 हजार से केस

जानिये पर आधारित कोरोना की तीव्रता का व्यवहार क्या है?

.

Related Articles

Back to top button