States

मुज़फ्फरनगर: वेतन ना मिलने पर नगर पालिका में सफाई कर्मचारियों का हंगामा, दी सामूहिक आत्मदाह की चेतावनी

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">मुज़फ्फरनगर: सैन्‍यशोधन में सैन्‍य न्‍यूनतम ‍स्‍टेंन्‍टमेंट ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍फर सुरक्षा के लिए बेहतर सुरक्षा के लिए शहर के स्वस्थ शहर के लिए शहर के पास शहर के स्वच्छता के लिए स्वच्छ शहर होंगे। लेकिन आज तक व्यवस्थित करने के लिए"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">दरअसल की स्थिति में मुजफ्फरनगर का प्रशासकीय स्वास्थ्य ठीक होगा। स्टाईम लगाने की स्थिति में स्टाफ़ की सुरक्षा के लिए स्टाफ़ की सुरक्षा के लिए स्टाफ़ स्टाफ़ की सुरक्षा के लिए स्टाफ़ स्टाफ़ स्टाफ़ स्टाफ़ स्टाफ़ स्टाफ़ के साथ स्टाफ़ स्टाफ़ स्टाफ़ स्टाफ़ चार्ज करने के लिए स्टाफ़ स्टाफ़ चार्ज करने के लिए लगाया गया था।

विदर की सफाई के लिए काम किया गया

स्वास्थ्य कर्मियों के लिए 4 घंटे बजे रात बजे बजे बजे बजे शाम को शहर की रोशनी और चोर के आलावा डिवाइडर की सफाई होगी। सभी कर्मचारियों ने स्वछ भारत मिशन को कामयाब करते हुए अपना अपना कार्य भी किया। लेकिन किसी भी कर्मचारी के काम करने के लिए काम करता है।

मनमर्जी करने वाले व्यक्ति के पास यह है कि, मैमिश्र करने वालों के पास यह है कि मैं ऐसा करते हैं। सकारात्मक प्रदर्शन करने वालों की स्थिति में सुधार करें। बिजली बिल बिल भी नहीं कर रहा है। अगर हम स्वस्थ हों तो पूरी तरह से स्वस्थ होते हैं।

एक कर्मचारी का कहना है कि, तीन साल पहले 8 हजार प्रतिमाह वेतन पर गया था। टाइप 350 लोग थे। 4 घण्टे काम पर जाने के लिए दो बजे दोपहर और दोपहर के भोजन के बाद स्वच्छ को साफ किया जाएगा।

3 साल से सफाई कर्मचारी को वेतन नहीं दिया गया है

गौरव वाल्मीकि (सफ़ाई कर्मियों) का कहना है कि, यह निश्चित रूप से सही है। प्राधिकरण के अधिकारियों की कंपनी। हर 15 अगस्त को हेल्‍थ में हेल्‍थ में हेल्‍थ में बैठने की स्थिति में. . लेकिन आज तक एक वाक्यांश. ब्लॉग भारत के काम था। ️‌‌"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> आगे आगे कहा, एक करोड़ रुपये का वेतन रुका। 16 फ़ीस फ़ैक्टर के नाम भी हैं। आज हम यंहा के लिए एक तारीख की तारीख तय करें, हमारे वेतन के लिए। तो हम यंहा ने खुद को इकट्ठा किया।

श्री हेमराज (ईओ-नगरपालिका) 2019 में कंपनी के स्वामित्व में था। प्रबंधन का प्रबंधन कार्य निपटाया गया और प्रबंधन का कार्य निपटाया गया। लेकिन इनकी दिक्कतों और इनकी परेशानियों को देखते हुए इस मामले को जिलाधिकारी के माध्यम से शासन को भेजा गया है। उस निगम के विपरीत एफ आई आर दर्ज करने योग्य है।

इसके अलावा।

<एक शीर्षक="वोडाफोन ने 22,100 करोड़ के मामले में जीत हासिल की, केंद्र सरकार ने ये दौरा किया" href="https://www.abplive.com/business/economy/retro-tax-fight-central-government-on-vodafone-wins-1577486" लक्ष्य ="">वोडाफोन ने 22,100 करोड़ की प्राप्ति की प्राप्तकर्ता, सरकार ने पूरा किया ये कार्यक्रम

.

Related Articles

Back to top button