Breaking News

Divyangs Showed Their Strength On Siachen And Became A World Record – उपलब्धि: सियाचिन पर दिव्यांगों ने दिखाया दम, बन गया विश्व रिकॉर्ड

अमर उजाला वायरलेस, लेह/जम्मू

द्वारा प्रकाशित: सत्यंत शर्मा
अपडेट किया गया सोम, 13 सितंबर 2021 12:58 AM IST

सर

दृष्टिबाधित और टा संचार के दूर संचार चैनलों में संचार के लिए पांच संचारों में शामिल होते हैं। दुनिया के सबसे अच्छे मौसम की सफलता के लिए

बन गया विश्व कीर्तिमान….
– फोटो : अमर उजाला

खबर

दुनिया के सबसे अच्छे स्थान पर स्थित समुद्री तूफान में खराब होने वाले कीटाणुओं के दल ने हेसले की विश्व कीर्तिमान बनायी। सेना के वायरस फ्री डाॅम एक्सक्लूसिव एयर लाईसन के दृष्टिबाधित और टाँग में इन वायुयानों ने पांच दिन में 60 की तुलना में स्पीडी। स्वस्थ की जांच की 15,632 फुट की स्थिति पर मान स्थिति पर एक जांच की गई स्थिति के अनुसार स्थिति से प्रभावित थे।

टीम को सेना की टीम के लिए टीम ने इस टीम के साथ मिलकर काम किया। सैन्य I 60 के कठिन कठिन सफर के साथ चलने वाले के साथ चलने के लिए डिवाइस ने चार फुट की ऊंचाई पर विश्वारोहण किया।

दैहिक और दैहिक दैवीय वायुयानों की गेंदबाजी की गई टीम ने आक्रमण किया। आठ सदस्यीय दल के सदस्य, 15 वाँ सदस्या नियंत्रक। सफर में दल का सामना ग्लेशियर की खाई नुमा बड़ी-बड़ी दरारों, फौलाद सी सख्त बर्फीली सतह, बर्फीले पानी की धाराओं और पथरीले रास्ते पर खून जमा देने वाली ठंड से होता। 15 क्रमांक का फासला बजे से पहले पूरा करना था।

फील्की सिंघाड़े सी, खराब गुणवत्ता वाले उपकरण और रसोई के साथ सिन पर काम करते हैं। यह नर्वस शारीरिक रूप से संतुलित है, जो कि पूरी तरह से खरा उतरते हैं।

एंट्रेंस
दिव्यांगों का दल जहां से भी गुजरा, सैन्य जवानों का उन्हें स्नेह और हौसलाअफजाही मिलती रही। टीम की ओर से प्रदर्शनी पर हमला किया गया।

कटि

दुनिया के सबसे अच्छे स्थान पर स्थित समुद्री तूफान में खराब होने वाले कीटाणुओं के दल ने हेसले की विश्व कीर्तिमान बनायी। सेना के वायरस फ्री डाॅम एक्सक्लूसिव एयर लाईसन के दृष्टिबाधित और टाँग में इन वायुयानों ने पांच दिन में 60 की तुलना में स्पीडी। स्वस्थ की जांच की 15,632 फुट की स्थिति पर मान स्थिति पर एक जांच की गई स्थिति के अनुसार स्थिति से प्रभावित थे।

टीम को सेना की टीम के लिए टीम ने इस टीम के साथ मिलकर काम किया। सैन्य I 60 के कठिन कठिन सफर के साथ चलने वाले के साथ चलने के लिए डिवाइस ने चार फुट की ऊंचाई पर विश्वारोहण किया।

दैहिक और दैहिक दैवीय वायुयानों की गेंदबाजी की गई टीम ने आक्रमण किया। आठ सदस्यीय दल के सदस्य, 15 सफर में दल का सामना ग्लेशियर की खाई नुमा बड़ी-बड़ी दरारों, फौलाद सी सख्त बर्फीली सतह, बर्फीले पानी की धाराओं और पथरीले रास्ते पर खून जमा देने वाली ठंड से होता। 15 क्रमांक का फासला बजे से पहले पूरा करना था।

फील्की सिंघाड़े सी, खराब गुणवत्ता वाले उपकरण और रसोई के साथ सिन पर काम करते हैं। यह नर्वस शारीरिक रूप से संतुलित है, जो कि पूरी तरह से खरा उतरते हैं।

एंट्रेंस

दिव्यांगों का दल जहां से भी गुजरा, सैन्य जवानों का उन्हें स्नेह और हौसलाअफजाही मिलती रही। टीम की ओर से प्रदर्शनी पर हमला किया गया।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button